बिजली बिल भी नहीं भर पाता था यह फुटबॉलर

0

फुटबॉल विश्व के सबसे लोकप्रिय खेलों में से एक है और यह बात भी किसी से नहीं छिपी है कि क्रिकेट से ज्यादा रुपए फुटबॉल के खिलाड़ियों को मिलते हैं| एक ओर जहां क्रिकेट के खिलाड़ी करोड़ों में कमाई करते हैं वहीं दूसरी ओर फुटबॉल टीम के खिलाड़ी अरबों में कमाई करते हैं| फुटबॉल में अच्छा प्रदर्शन कर खिलाड़ी रातोंरात रईस बन जाते हैं|

आज हम आपको एक ऐसे खिलाड़ी के बारे में बताने जा रहे हैं, जो गरीबी के कारण फुटबॉल से जुड़ा और आज अरबों की कमाई कर रहा है| हम बात कर रहे हैं बेल्जियम के स्टार खिलाड़ी रोमेलू लुकाकू की, जो इस विश्वकप में गोल्डन बूट के दावेदारों की सूची में अव्वल नंबर पर हैं, लेकिन बहुत कम लोग उनकी निजी ज़िंदगी की मुश्किलों के बारे में जानते होंगे|

एक वेबसाइट को इंटरव्यू देते हुए लुकाकू ने अपनी गरीबी के दिनों को याद किया| उन्होंने बताया कि जब वे छोटे थे तो उनके घर में खाने की कमी होती थी और कभी-कभार वे अंधेरे में प्रार्थना करते थे क्योंकि उनके पास अपार्टमेंट में बिजली का बिल भरने के लिए धन नहीं होता था|

रोमेलू लुकाकू ने आगे बताया कि हमारे पास इतने पैसे भी नहीं होते थे कि हम पूरे हफ्ते की जरूरतों को पूरा कर सकें| हम सिर्फ गरीब ही नहीं थे बल्कि उससे भी बद्तर थे| उन्होंने बताया कि जब वे छह वर्ष के थे, तब उन्हें अपने परिवार की गरीबी का एहसास हुआ| इसके बाद ही उन्होंने फैसला किया कि वे फुटबॉलर बनकर अपने परिवार की गरीबी दूर करेंगे|

अब वे मैनचेस्टर यूनाइटेड जैसे क्लब के साथ खेलते हैं| इससे पहले वे चेल्सी, वेस्ट ब्रोमविच एलबियोन और एवर्टन जैसे क्लबों में भी अपना हुनर दिखा चुके हैं| लुकाकू बेल्जियम के लिए रिकॉर्ड स्कोरर रहे हैं| उन्होंने 70 मैचों में 38 गोल दागे हैं|

Share.