कुक ने बनाया रिकॉर्ड, ओवल में छाए भारतीय गेंदबाज

0

पांच मैचों की सीरीज के अंतिम मैच के पहले दिन भारतीय गेंदबाजों का शानदार प्रदर्शन देखने को मिला| खासकर इस मैच से वापसी कर रहे रविंद्र जडेजा ने बेहतरीन गेंदबाजी की| उन्हें अश्विन की जगह शामिल किया गया| इस सीरीज में अश्विन विकेट लेने में नाकामयाब रहे, जिस वजह से अंतिम टेस्ट मैच में जडेजा को मौका दिया गया| वहीं तेज गेंदबाजों में इशांत शर्मा और जसप्रीत बुमराह की शानदार गेंदबाजी भी देखने को मिली| टॉस जीतकर इंग्लैंड की टीम ने पहले बल्लेबाजी का फैसला किया| पहले दिन का खेल खत्म होने तक इंग्लैंड की टीम 90 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर मात्र 198 रन ही बना पाई|

इंग्लैंड की बल्लेबाजी

इंग्लैंड की ओर से अपने करियर का अंतिम मैच खेल रहे एलिस्टर कुक ने सर्वाधिक 71 रनों की पारी खेली| इंग्लैंड की टीम को ठोस शुरुआत मिली, लेकिन मध्यक्रम के बल्लेबाज जल्दी-जल्दी आउट हो गए| कुक के साथ बल्लेबाजी करने आए जेंनिंग्स 23 रन बनाकर आउट हुए, वहीं मोइन अली ने 50 रनों की पारी खेली| इसके बाद कोई भी बल्लेबाज बड़ी पारी खेलने में कामयाब नहीं हो पाए| टीम के तीन बल्लेबाज तो अपना खाता भी नहीं खोल पाए| दूसरे दिन जो जोस बटलर और आदिल रशीद मैदान में उतरेंगे| देखते हैं कि वे कितने देर तक भारत की गेंदबाजी का सामना कर पाते हैं|

बना गए यह रिकॉर्ड

एलिस्टर कुक ने अपने करियर के अंतिम मुकाबले में एक रन बनाते ही कमाल का रिकॉर्ड स्थापित कर दिया है| उन्होंने ओवल के मैदान में अपने 1000 टेस्ट रन पूरे कर लिए हैं| इस आंकड़े को छूने के लिए उन्हें एक रन की ज़रूरत थी| इससे पहले उन्होंने लॉर्ड्स टेस्ट के दौरान ये उपलब्धि हासिल की थी| वे दोनों मैदानों पर यह आंकड़ा छूने वाले इंग्लैंड के तीसरे बल्लेबाज बन गए हैं|

भारत की गेंदबाजी

अंतिम टेस्ट मैच के पहले दिन इशांत शर्मा सबसे सफल गेंदबाज रहे| उन्होंने 28 रन देते हुए इंग्लैंड के तीन बल्लेबाजों को आउट किया| वहीं जसप्रीत बुमराह और जडेजा को दो-दो विकेट मिले| वहीं मोहम्मद शमी विकेट लेने में कामयाब नहीं हो पाए| कोहली ने हनुमा विहारी से अधिक गेंदबाजी नहीं करवाई, उन्होंने सिर्फ एक ओवर फेंका|

Share.