महाभारत में लिखे है ये जीवन मंत्र

0

हिंदू धर्म ग्रंथ और पुराण वेद और विज्ञान का वो संगम है जहा हर मुश्किल का हल है, हर बीमारी का इलाज है | आज कल की भाग दौड़ भरी जिंदगी में लाईफ मैनेजमेंट कठिन होता जा रहा है | महाभारत एक ऐसा ग्रंथ है जिसमें जीवन में सफल होने और कठिनाइयों से पार पाने के जीवन मंत्र (Mahabharat Spirituality In Hindi) है |

Mahabharat Spirituality In Hindi (महाभारत में लिखा है)

अधिक सोने से समय को बर्बाद न करें| आवश्यकता से अधिक सोना हर लिहाज से घातक है| किसी कार्य को समयपूर्व निपटाना ज्यादा बेहतर है बजाय सोने के | साथ ही सोने के बाद भी ऊंघते रहना या कार्य के दौरान सुस्त रहना भी गलत है | सक्रियता और निरंतरता बेहद आवश्यक है | उबासी और आलस्य जीवन में प्रगति के दुश्मन है| महाभारत भयभीत होने से बचे रहने और साहस के साथ आत्मविश्वास के जरिये आगे बढ़ने की बात कहता है |डर पर जीत कायम कर आगे बढ़ना और आत्मविश्वास से भरा रहना जीवन में सफलता का मूल मंत्र है |

Image result for mahabharat granth

महाभारत में क्रोध को इंसान का शत्रु कहा गया है | क्रोध बुद्धि का नाश कर सोचने समझने की क्षमता ख़त्म करता है | क्रोध पर विजय पाना जीवन के लिए जरुरी है | आलस्य को भी महाभारत में जीवन का सबसे बड़ा विकार बताया गया है | आलसी व्यक्ति कभी प्रगति की राह पर नहीं बढ़ सकता | आलस्य को त्याग कर कर्म की ओर बड़े | महाभारत में दीर्घसूत्रता को लेकर भी जीवन जीने की कला का जिक्र है | जो कार्य आप जल्दी कर सकते हैं उन्हें करने में भी आप बहुत देर लगा रहे हैं, इसे ही दीर्घसूत्रता कहा गया है | कामों को समय से निपटना बेहद जरुरी है | अगर आप ओर हम महाभारत के इन मंत्रो को जीवन में उतारते हुए जीवन जिए तो जीवन की कई परेशानियों से बचे रहने के साथ जीवन में सफलता के नए आयाम गढ़ सकते है|

अभिषेक

एक हार से सबकुछ ख़त्म नहीं हो जाता है

शुद्ध विचारों के बिना सुंदरता का क्या मोल!

कहानी: मरने के बाद नहीं माता-पिता के जीते जी ही करें सेवा

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.