एक पैर नहीं फिर भी वो दौड़ी रेस में और बनी मिसाल

0

मंजिले उन्ही को मिलती हैं (Race With One Leg Video Viral) जिनके सपनो में जान होती हैं, पंखों से कुछ नहीं होता हौसलों से उड़ान होती है। ये पंक्तिया उन लोगों के हौसला अफ़ज़ाई के लिए बनाई गई है जो ना मुश्किलों से टूटते है ना ही हालातों के आगे घुटने टेकते हैं बल्कि हर चुनौतियों का सामना पूरी बहादुरी से करते हैं और एक दिन वो कारनामा कर दिखाते हैं जो दूसरों के लिए एक प्रेरणा बन जाता है। नेपोलियन ने भी कहा है वो जीवन ही क्या जिसके हर मोड़ पर कोई संघर्ष ना हो। संघर्ष ही इंसान को उसकी शक्ति का अहसास करवाता हैं। ये बताता है कि हालत कैसे भी हो अगर इंसान ठान ले तो जीत उसी की होती है। 30 जनवरी को इंडियन फारेस्ट सर्विस (Indian Forest Service) के अफसर सुशांत नंदा (Sushant Nanda)ने ट्विटर पर एक विडियो शेयर किया। एक ऐसा वीडियो जिसे जिसने भी देखा वाह – वाह बोलने लगा। दरअसल ये वीडियो (Race With One Leg Video Viral) एक बच्ची का हैं जो विकलांग हैं और एक रेस कॉम्पिटिशन में भाग ले रही है। जैसे ही रेस शरू होती है सभी प्रतिस्पर्धी बच्चे तेज़ी से दौड़ कर आगे निकलने के लिए प्रयास करने लगते हैं लेकिन उनके पीछे ये विकलांग बच्ची बैसाखियों के सहारे धीरे-धीरे आगे बढ़ने का प्रयास करने लगती है। पहले तो वहां मौजूद दर्शकों का ध्यान नहीं जाता और वे तेज दौड़ रहे बच्चों को ही देखते रहते हैं, लेकिन तभी उनका ध्यान सबसे पीछे चल रही इस बच्ची पर जाता है जो विकलांग होने के बावजूद दूसरे सामान्य बच्चों के साथ मुकाबला कर रही है। तब सभी दर्शक खड़े होकर उस बच्ची के लिए तालियां बजाते है। वीडियो (Race With One Leg Video Viral) अपलोड करने वाले सुशांत नंदा ने ये नहीं बताया कि ये वीडियो कहा का है और ये बहादुर लड़की कौन हैं लेकिन वीडियो में साफ़ दिख रहा है कि उस बच्ची का एक पैर नहीं है और वो बैसाखियों के सहारे दौड़ रही है। ये वीडियो बेहद तेजी से शेयर हो रहा है और जो भी इस वीडियो को देख रहा है उस बच्ची के बुलंद हौसले को सलाम कर रहा हैं।

इंसानो के अंदर ख़त्म होती इंसानियत इस पक्षी में देखने को मिली ,viral video

Race With One Leg Video Viral | Divyang Baby Girl Paticipated In Race

सुशांत नंदा (Sushant Nanda) ने ये वीडियो (Race With One Leg Video Viral) शेयर करते हुए लिखा दुनिया में कुछ भी असंभव नहीं है मेरे लिए तो ये बच्ची ही फर्स्ट है। एक यूजर ने लिखा के -मेरे वो पास शब्द नहीं है जिससे उस बच्ची की हिम्मत की तारीफ कर सकूं। इसमें कोई शक नहीं की ये बच्ची अपने जीवन के लक्ष्य को हासिल कर के रहेगी। विवेक गुप्ता नाम के एक शख्स ने लिखा – सलाम, शाबाश। इसके अलावा भी अनेक लोग इस बच्ची के हौसले की तारीफ करते नहीं थक रहे हैं। सभी का ये मानना है कि इस वीडियो को देख कर उन्हें इस बात पर यकीन हो गया की जो लोग अपनी कमियों के बावजूद चुनौतियों का सामना करते हैं वही लोग दुनिया में अपना नाम रोशन कर मिसाल बन जाते हैं। अब तक इस वीडियो (Race With One Leg Video Viral) के हज़ारो शेयर हो रहे है रीट्वीट भी हो रहे हैं और इस वीडियो की तारीफ करते लोग नहीं थक रहे हैं। ये वीडियो एक सबक है उन लोगो के लिए जो कई बार अपनी कमियों को ढाल बनाकर जिंदगी की मुश्किलों का सामना करने से मना कर देते हैं।

66 की उम्र में प्यार फिर वृद्धाश्रम में शादी हुई: Viral video

Race With One Leg Video Viral | Divyang Baby Girl Paticipated In Race

किसी शायर (Race With One Leg Video Viral) ने क्या खूब कहा है मंजिल मिले ना मिले ये मुकद्दर की बात है, हम कोशिश ना करे ये तो गलत बात हैं। स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekanand) का एक सन्देश हैं संभव को जानने का एक ही तरीका हैं असंभव को पार कर जाना। एपीजे कलाम साहब (APJ Abdul Kalam) का बचपन आभाव में बिता फिर भी उन्होंने हार नहीं मानी और अपने हौसले के दम पर भारत के राष्ट्रपति बने। ऐसे अनेक उदहारण मिलेंगे जो हमारे लिए एक सन्देश है की हम हमेशा आगे बढ़ते रहे | जैसे इस बच्ची (Race With One Leg Video Viral) ने कर दिखाया। तो इस वीडियो को देखिए और बदलिए अपना नज़रिया और अपने लक्ष्य को पाने के लिए दृणसंकल्पित होकर निरंतर प्रयास करते रहिए चाहे कितनी भी तकलीफ आए आप विचलित ना हो तो एक दिन आप अपने लक्ष्य को अपनी मंजिल को पा ही लेंगे यही है इस वीडियो का असली संदेश।

Viral Video: रो-रो कर हुआ दीपिका का बुरा हाल, देखें वीडियो

Vishwambhar Nath Tiwari

Share.