नहीं होगी निर्भया के दोषियों की फांसी ?

0

दिल्ली :16 दिसंबर को निर्भया गैंग रेप (2012 Delhi gang rape ) मामले को पूरे सात साल हो जाएँगे, लेकिन अभी तक इस मामले पर पीड़िता को न्याय नहीं मिल पाया है। आज भी पीड़ित परिवार अपनी बेटी के हत्यारों को फांसी देने की मांग कर कोर्ट के चक्कर लगा रहा है। अब सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court Review Petition) ने दोषी अक्षय कुमार की पुर्नविचार याचिका (Akshay Kumar petition) को स्वीकार कर लिया है, जिसके बाद हंगामा बढ़ गया है। अब सुप्रीम कोर्ट में 17 दिसंबर दोपहर 2 बजे पुर्नविचार याचिका पर सुनवाई करेगी। इस मामले पर तीन जज की पीठ सुनवाई करने वाली है।

निर्भया के दोषियों को जल्द हो सकती है फांसी, लेकिन…

सिस्टम पर भड़की निर्भया की मां

सुप्रीम कोर्ट द्वारा अक्षय कुमार की पुनर्विचार याचिका को स्वीकार करने के बाद निर्भया की मां (Nirbhaya’s mother ) ने अपना रोष जारी किया है। उन्होने कहा कि यह रिव्यू पिटीशन (Akshay Kumar petition) पूरे सिस्टम पर तमाचा है इसे एक्सेप्ट नहीं करना चाहिए था। मुझे यह सुनकर झटका लगा है। सिस्टम मुजरिमों के आगे लाचार है। हमें उम्मीद थी कि 16 दिसंबर को फांसी होगी। मुजरिमों के आगे हमारा सिस्टम फेल क्यों है।  रिव्यू पिटीशन एक्सेप्ट नहीं करना चाहिए था। यह सिस्टम मुजरिमों का सपोर्ट कर रहा है। वो जीत रहा है और हम हार रहे हैं। इसके लिए सरकार जिम्मेदार है, हमें इंसाफ नहीं मिल रहा है।

16 दिसंबर को होगी निर्भया के दरिंदों को फांसी !

कानूनी पेचीदगियों का फायदा उठा रहे दोषी

(Akshay Kumar petition) निर्भया कि मां और उनकी वकील का कहना है कि दोषी कानूनी पेचीदगियों का फायदा उठा रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट से फांसी मिलने के बाद दोषियों की दया याचिका राष्ट्रपति के पास है, जिस पर अभी तक फैसला नहीं आया हो। वहीं तिहाड़ जेल में दोषियों की फांसी की तैयारियां भी चल रही हैं। फांसी के बारे मे सुनने के बाद आरोपियों का हाल बेहाल हो गया है। उनके चेहरे पर भय साफ-साफ झलक रहा है। जहां पुनर्विचार याचिका पर 17 दिसंबर का समय दिया गया है वहीं पटीलाया हाउस कोर्ट मे निर्भया कि मां कि याचिका पर अब  19 दिसंबर को सुनवाई कि जाएगी।

सरकारी देरी के कारण बच जाएंगे निर्भया के बलात्कारी ?

       – Ranjita Pathare 

 

Share.