नामांकन रद्द होने के बाद तेज बहादुर ने कहा….

0

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) में समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) से वाराणसी सीट पर बीएसएफ के पूर्व जवान तेज बहादुर यादव (Tej Bahadur Yadav Nomination Rejected ) का नामांकन रद्द होने के बाद उनका बयान सामने आया है। तेज बहादुर नरेंद्र मोदी को टक्कर देने के लिए तैयार थे, उन्होंने कल ही नामांकन भी किया था, लेकिन आज उनका नामांकन रद्द हो गया। तेज बहादुर का कहना है कि तानाशाह तरीके से मेरा नामांकन रद्द किया गया है। भाजपा, वाराणसी से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने से उन्हें रोकने के लिए उनके नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया में रोड़े अटका रही है। मैंने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर 24 अप्रैल को अपना नामांकन दाखिल कि था और सपा के उम्मीदवार के तौर पर 29 अप्रैल को नामांकन किया था। यदि नामांकनों में कोई दिक्कत थी, तो मुझे पहले इसकी जानकारी क्यों नहीं दी गई। कम समय बचा होने के बावजूद मेरी कानूनी टीम चुनाव अधिकारी को पूरी जानकारी दे रही है।

ममता की देश बांटने की मंशा!

Image result for तेज बहादुर का नामांकन रद्द

सेना के पूर्व जवान ने आगे कहा, “मुझे चुनाव लड़ने से इसलिए रोका जा रहा है, क्योंकि देश का नकली चौकीदार, असली चौकीदार से भयभीत है।” यादव द्वारा लगाए गए इन आरोपों के बाद भाजपा की और से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।” उन्होंने कहा कि वह इस फैसले से संतुष्‍ट नहीं हैं और सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे। वहीं अब नए समीकरणों में सपा की दूसरी प्रत्‍याशी शालिनी यादव चुनावी मैदान में हैं।

राजनाथ मजबूर है, इलेक्शन कमीशन ऑफ़ मोदी हो गया- सिन्हा

Image result for तेज बहादुर का नामांकन रद्द

डरी हुई है भाजपा

सपा के उत्तर प्रदेश इकाई के प्रवक्ता मनोज राय धूपचंडी ने इस संबंध में कहा कि यादव को निशाना बनाया जा रहा है क्योंकि वह किसानों और जवानों की आकांक्षाओं और चिंताओं का प्रतिनिधित्व करते हैं और उन्हें वाराणसी में लोगों का जो समर्थन मिल रहा है उससे बीजेपी भयभीत है। इससे पूर्व पहले निर्दल और बाद में सपा के सिंबल पर नामांकन फार्म दाखिल करने वाले बीएसएफ के बर्खास्त फौजी तेज बहादुर यादव को जिला निर्वाचन अधिकारी से नोटिस मिलते ही सपा में हड़कंप मच गया था।

PM Modi Addresses Rally Near Ayodhya LIVE : पीएम का अयोध्या में चुनावी शंखनाद

Tej-Bahadur-Yadav-Nomination-Cancel-Varanasi-Social-Media-Reaction

 

Share.