पीएम मोदी इमरान खान का नहीं उठाते फोन

0

लोकसभा चुनाव (lok sabha election 2019) के परिणाम आने के बाद अब नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के शपथ ग्रहण समारोह की तैयारी की जा रही है। कार्यक्रम के लिए देश-विदेश से कई बड़े नेताओं को निमंत्रण भेजा जा रहा है। ऐसे समय में पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ( Nawaz Sharif, Former Prime Minister of Pakistan) की बेटी मरियम (Maryam Nawaz Said PM Narendra Modi Modi Doesnt Respect Imran Khan) का बयान सामने आया है।

भारतीय नोटों से महात्मा गांधी का फोटो हटाने की मांग

मरियम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान (PM Narendra Modi Doesnt Respect Imran Khan) के रिश्तों के बारे में बताया। उन्होंने इमरान खान पर निशाना साधा और कहा कि भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने पाकिस्तानी समकक्ष को सम्मान नहीं देते। भारतीय पीएम इमरान खान का फोन भी नहीं उठाते।

 वोट चुरा कर सत्ता में आये इमरान

मरियम ने कहा (PM Narendra Modi Doesnt Respect Imran Khan) कि फरवरी में भी पीएम मोदी ने इमरान का फोन नहीं उठाया था। इमरान ने शिकायत की थी कि भारतीय प्रधानमंत्री ने उनका फोन नहीं उठाया। उस समय दोनों देशों के बीच तनाव चरम पर थे। मरियम ने यह बयान पाकिस्तान के 1998 के परमाणु परीक्षणों के संबंध में मॉडल टाउन में आयोजित एक कार्यक्रम में दिया। उन्होंने कहा, “मोदी और दुनिया के अन्य राष्ट्राध्यक्ष क्यों इमरान को सम्मान नहीं देते हैं, क्योंकि वे जानते हैं कि आप किसी की मदद से लोगों का वोट चुरा कर सत्ता में आए हैं। आप किसी के इशारे पर चलते हैं। इमरान खान … आपका दर्जा किसी कठपुतली से ज्यादा कुछ नहीं है। इमरान, शरीफ को ‘मोदी का दोस्त’ कहा करते थे, लेकिन वे उनसे बात करने के लिए भी तैयार नहीं है।

अब होगा मंदिर निर्माण-शिवसेना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में देश-विदेश से कई बड़े नेताओं को बुलाया जा रहा है। शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिये सरकार ने बिम्सटेक समूह के नेताओं को आमंत्रित किया है। बिम्स्टेक समूह में बांग्लादेश, भूटान, भारत, म्यामां, नेपाल, श्रीलंका, थाईलैंड शामिल हैं। 2014 में नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में मंत्रिपरिषद के शपथ ग्रहण समारोह में दक्षेस देशों के शासनाध्यक्षों को आमंत्रित किया गया था, उनमे पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ को भी आमंत्रित किया गया था।

तेजप्रताप ने तेजस्वी को पत्र में लिखा ….c

Share.