अब सिद्धू ने कहा, अरे नरेंद्र मोदी ये..

0

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) प्रचार में जुबान से बेलगाम हुए नेताओं में अपने विवादित बयान (Controversial Statement) को लेकर पहले से ही सुर्खियों में छाए नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) भी शामिल हैं| अब उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कटाक्ष करते हुए गुजरात (Gujarat) के अहमदाबाद (Ahmedabad) में चुनावी रैली (Election 2019 Rally) में कहा कि, ‘अरे नरेंद्र मोदी ये राष्ट्रभक्ति है तुम्हारी (PM Modi Ye Rashtrabhakti Hai Tumhari), पेट खाली है और योगा कराया जा रहा है, बाबा रामदेव (Baba Ramdev) ही बना दो सबको| पेट खाली है योगा कराया जा रहा है और जेब खाली है खाता खुलवाया जा रहा है|’गौरतलब है कि कटिहार में महागठबंधन की तरफ से कांग्रेस (Congress) उम्मीदवार के लिए चुनावी रैली में सांप्रदायिक टिप्पणी करने को लेकर नवजोत सिंह सिद्धू को लेकर बीजेपी ने चुनाव आयोग का दरवाजा खटखटाया है|

कौन हैं साध्वी प्रज्ञा ठाकुर जो भोपाल से लड़ सकती है चुनाव ?

PM Modi Ye Rashtrabhakti Hai Tumhari :

मंगलवार को हुई इस रैली में सिद्धू ने मुस्लिम समुदाय से एकजुट होकर मतदान करने की अपील की| सिद्धू ने कहा था अगर तुम लोग इक्ट्ठे हुए, एकजुट हो के वोट डाला तो मोदी सुलट जाएगा| उन्होंने कहा इस बार चुनाव में ऐसा छक्का मारो कि मोदी बाउंड्री के पार चला जाए| चुनाव आयोग ने इस भाषण की CD जाँच के लिए मंगवाई है| सिध्दू के आलावा मायावती, योगी आदित्यनाथ, मेनका गाँधी और आजम खान पर भी चुनाव आयोग की गाज गिरी है| इसके आलावा भी कई नेता अपनी बेलगाम जुबान के चलते आचार संहिता का मजाक बना चुके है|सिलसिला जारी है और चुनाव आयोग इस पर लगाम लगाने में फ़िलहाल नाकाम ही कहा जा सकता है|

चुनाव में यह पार्टी बांट रही बकरा, शराब, सोना  और..

Image result for sidhu

गौरतलब है कि इन में सबसे विवादित भाषण आजम खान (Azam Khan Controversial Statement) का है जिन्होंने जया प्रदा को लेकर अमर्यादित भाषा का प्रयोग किया था| समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान को उत्तर प्रदेश के विभिन्न स्थानों पर पिछले कुछ दिनों के दौरान कथित रूप से भड़काऊ टिप्पणी करने के लिए मंगलवार को चुनाव आयोग की ओर से एक नया कारण बताओ नोटिस जारी किया है| जवाब देने के लिए 24 घंटे का समय दिया और कहा कि प्रथम दृष्टया वे आचार संहिता उल्लंघन के दोषी हैं| चुनाव आयोग ने उनकी टिप्पणियों के उदाहरण देते हुए कहा कि एक मौके पर उन्होंने कथित रूप से कहा कि फासीवादी उन्हें मारने का प्रयास कर रहे हैं| उन्होंने दूसरे मौके पर कथित रूप से कहा कि प्रधानमंत्री ने मुस्लिमों को मारा है| उन्होंने राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह पर परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए कथित रूप से कहा था कि अपराधी संवैधानिक पदों पर आसीन हैं|

भोपाल से दिग्विजयसिंह को टक्कर देगी साध्वी प्रज्ञा!

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.