website counter widget

साध्वी प्रज्ञा का इस्तीफा!

0

लोकसभा चुनाव (loksabha election 2019) में भोपाल लोकसभा सीट ( Bhopal Lok Sabha) से नवनिर्वाचित भाजपा सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर (Pragya Singh Thakur) अब इस्तीफा देने वाली है। साध्वी प्रज्ञा (Pragya) ने कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह (Digvijaya Singh) को भारी मतों से हराया। अब कहा जा रहा है कि भाजपा (BJP ) उनसे जल्द ही इस्तीफे की मांग कर सकती है। दरअसल, ऐसा साध्वी द्वारा दिए गए बयान के कारण और गुरुवार को मतगणना केंद्र पर हुए बवाल के कारण किया जा सकता है। साध्वी प्रज्ञा ने नाथुराम गोडसे को देशभक्त करार दिया गया था। वहीं मतगणना केंद्र पर थुराम गोडसे ज़िंदाबाद के नारे भी लगे थे।

Indian Cabinet Ministers List 2019 : अमित शाह को मिला गृह मंत्रालय, देखें मोदी के नए केंद्रीय मंत्रियों की सूची!

 पीएम ने की थी आलोचना

साध्वी प्रज्ञा के नाथुराम गोडसे को देशभक्त कहने वाले बयान पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साध्वी की आलोचना की थी। पीएम ने कहा था कि मैं साध्वी प्रज्ञा को दिल से कभी माफ नहीं करूंगा। उन्होंने सख्त लहजे में कहा था कि प्रज्ञा और बाकी लोग जो गोडसे और बापू के बारे में बयानबाजी कर रहे हैं, वह खराब है। भले ही प्रज्ञा ने माफी मान ली हो, लेकिन मैं दिल से उन्हें कभी माफ नहीं कर पाऊंगा। अब मोदी के पास प्रचंड बहुमत हैं तो यदि वे एक सीट से इस्तीफा भी मांग लेंगे तो भी भाजपा की जीत के आंकड़े को कोई नुकसान नहीं हो सकता है। इसीलिए अब सूत्रों के अनुसार कहा जा रहा है कि साध्वी के इस्तीफे की मांग की जा सकती है।

Live Lok Sabha Election Results 2019 : भाजपा की जीत का जश्न

अमित शाह ने साध्वी के बयानों पर कड़ा रुख दिखाते हुए कहा था , “पिछले 2 दिनों में अनंतकुमार हेगड़े, साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर और नलीन कटील के जो बयान आए हैं वो उनके निजी बयान हैं, उन बयानों से बीजेपी का कोई संबंध नहीं है। इन लोगों ने अपने बयान वापस लिए हैं और माफी भी मांगी है। फिर भी सार्वजनिक जीवन और बीजेपी की गरिमा और विचारधारा के विपरीत इन बयानों को पार्टी ने गंभीरता से लेकर तीनों बयानों को अनुशासन समिति को भेजने का निर्णय किया है। ” साध्वी प्रज्ञा ने गोडसे को लेकर कहा था कि वे देशभक्त थे, हैं और रहेंगे।

Video : मध्यप्रदेश के नए मुख्यमंत्री विजयवर्गीय !

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.