website counter widget

मैं देशद्रोही हूं, अपराधी हूं, दोषी हूं… : कन्हैया कुमार

0

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) में इस बार बिहार की राजनीति में एक और नया नाम शामिल हुआ है, जिसे जनता का साथ मिल रहा है। बेगूसराय सीट पर इस बार केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह (Giriraj Singh) को जेनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष और भाकपा उम्मीदवार कन्हैया कुमार (Kanhaiya Kumar Attacks On PM Modi ) कड़ी टक्कर दे रहे हैं। राजनीती में बयानों के बुलबुले फुट रहे हैं। ऐसे ही कन्हैया कुमार का भी हाल ही में एक बयान सामने आया है। उन्होंने राजनीति के इस मुकालबे को पढ़ाई और कड़ाही के बीच की लड़ाई बताया। उनका कहना है कि एक ओर तो पढ़-लिखकर अपना और देश का भविष्य बनाने के इच्छुक युवा हैं और दूसरी तरफ वे लोग हैं जो इन पढ़े-लिखे युवाओं से पकौड़े तलवाना चाहते हैं।

Lok Sabha Election Phase 2 Live Updates : अब तक 51% मतदान, राज्यों के हाल भी जाने

Image result for kanhaiya-kumar

कन्हैया कुमार ने कहा (Kanhaiya Kumar Attacks On PM Modi ), “यदि हम चुप रहें तो कल पूरे देश से ही लोकतंत्र को हटा दिया जाएगा। अगर मैं देशद्रोही हूं, अपराधी हूं, दोषी हूं… तो सरकार मुझे जेल में क्यों नहीं डाल देती? अगर मैंने कुछ गलत किया है तब सरकार कार्रवाई करे। अगर मैं देशद्रोही हूं तो चुनाव कैसे लड़ रहा हूं? मेरा चुनाव लड़ना ही इस बात का सबूत है कि देशद्रोह के आरोप बेबुनियाद हैं। जनता सब जानती है। लोग वास्तविक मुद्दों पर बात करना चाहते हैं लेकिन भाजपा मनगढ़ंत मुद्दों की आड़ में लोगों को बांट रही है क्योंकि उसके पास जनता से जुड़ा कोई मुद्दा नहीं है। पिछले पांच वर्ष में केंद्र सरकार ने कुछ भी ठोस नहीं किया इसलिए वह भ्रम फैला रही है। ”

सिद्धू का पीएम मोदी पर विवादित ट्वीट

Image result for kanhaiya-kumar

उन्होंने आगे कहा (Kanhaiya Kumar Attacks On PM Modi ), ” साजिश करने वालों को देश की चिंता नहीं है बल्कि वे चाहते हैं कि ‘देश में न कोई बोले, ना सवाल करे। मैं, खुद को मिल रहे जनसमर्थन से उत्साहित हूं और मुझे अपनी सफलता का पूरा भरोसा भी है। राजनीतिक लड़ाई में सच्चाई और ईमानदारी हो तो जनता का सहयोग अपने आप मिलता है। भाजपा विरोधी मतों का विभाजन नहीं होगा… मुकाबला सीधा ही है। मैंने कुछ तय नहीं किया। संयोग और परिस्थितियां ही सब कुछ तय करती हैं। बेगूसराय में जन्म लेने के बाद मैंने सोचा नहीं था कि कभी दिल्ली जाऊंगा। दिल्ली पहुंच कर यह तय नहीं किया था कि जेएनयू जाऊंगा और छात्र संघ का अध्यक्ष बनूंगा। फिर मैं जेल भी गया, बेगूसराय से भाकपा उम्मीदवार बनना भी तय नहीं था। मेरा मानना है कि जनता की लड़ाई जनता के पैसे से हो. मेरा पूरा अभियान जनता के सहयोग से ही चल रहा है। वैसे भी, यह लड़ाई तो पढ़ाई और कड़ाही के बीच है। एक तरफ पढ़-लिखकर अपना और देश का भविष्य बनाने के इच्छुक युवा हैं तो दूसरी तरफ वे लोग हैं जो इन पढ़े-लिखे युवाओं से पकौड़े तलवाना चाहते हैं।

चुनाव आयोग ने बैन किया कांग्रेस का एक और विज्ञापन

Image result for kanhaiya-kumar

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.