website counter widget

शाह के बाद ममता बनर्जी का पैदल मार्च

0

इस लोकसभा चुनाव (lok sabha election 2019) में पश्चिम बंगाल में शुरू हुआ बवाल शांत होने का नाम ही नहीं ले रहा। कल यानी मंगलवार को अमित शाह (Amit Shah) की रैली से शुरू हुआ बवाल अब बढ़ते जा रहा है। कल जहाँ भाजपा अध्यक्ष सड़क पर थे वहीँ आज सीएम बनर्जी (Mamata Banerjee) सड़क पर पहुँच गई है। राज्य में हुई हिंसा के बाद अब मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मोर्चा खोल दिया है। दरअसल, शाह के रोड शो (Amit Shah Road Show) के दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं और टीएमसी समर्थकों के बीच झड़प हुई थी। जिसके बाद कई लोगों की जान चली गई एवं कई घायल हो गए थे। झड़प के दौरान उसके कार्यकर्ताओं ने ईश्वर चंद्र विद्यासागर (Ishwar Chandra Vidyasagar) की एक मूर्ति के साथ तोड़फोड़ की थी, जिस पर बवाल मचा हुआ है।

हिंसा के लिए भाजपा लाई भाड़े के गुंडे!

भाजपा और टीएमसी के कार्यकर्ता दोनों मूर्ति टूटने को लेकर एक दुसरे पर आरोप लगा रहे हैं। ईश्वर चंद्र विद्यासागर की मूर्ति तोड़ने की घटना को तृणमूल कांग्रेस ने ‘शर्मनाक’ बताया है।  टीएमसी ने “छी! छी! (शर्म! शर्म!)” शब्द के साथ विद्यासागर की मूर्ति की तस्वीर के साथ बोर्ड लगाए हैं। ममता के पैदल मार्च में सैड़कों की संख्या में लोग पहुंचे हैं।

पूजा के लिए मैंने बदला मुहर्रम का समय : योगी

पश्चिम बंगाल ही नहीं बल्कि दिल्ली में भी प्रदर्शन चल रहा है। दिल्ली के जंतर-मंतर पर बीजेपी नेताओं ने टीएमसी के बाद प्रदर्शन शुरू कर दिया है। यह धरना प्रदर्शन अमित शाह के रोड शो के दौरान हुई हिंसा के बाद किया जा रहा है। बीजेपी नेता मुंह पर उंगली रखकर और काली पट्टी लगाकर अपना विरोध जता रहे हैं।

1 सेकंड में BJP दफ्तर पर कर सकती हूं कब्जा : ममता

वहीँ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में सीएम बनर्जी पर हमला किया। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी ने बदला लेने के लिए अमित शाह की रैली पर हमला किया। ममता दीदी ने दो दिन पहले सार्वजनिक रूप से घोषणा की थी कि वह बदला लेंगी। उन्होंने 24 घंटे के भीतर अपना एजेंडा पूरा किया, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो पर हमला किया गया।

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.