website counter widget

Exit Poll 2019 में केवल मोदी का प्रमोशन!

0

लोकसभा चुनाव (lok sabha election 2019) खत्म होने के बाद मीडिया के अलग-अलग तरह के एग्जिट पोल ( Exit Poll 2019 ) के आंकड़े सामने आये। सभी आंकड़ों में मोदी सरकार की जीत के बारे में बताया जा रहा है। ऐसा कहा जा रहा है कि इस बार फिर से मोदी सरकारी (PM Modi)भारी बहुतम के साथ वापसी कर रही है। वहीं एक्जिट पोल (Exit Poll ) के इन आंकड़ों पर विपक्ष भी निशाना साध रहा है। विपक्ष का कहना है कि ये आंकड़े प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Exit Poll 2019 Promote PM Narendra Modi ) को प्रमोट करने के लिए डिजाइन किये गए हैं। सारी मीडिया पीएम मोदी को प्रमोट कर रही है।

Talented India News पर सबसे सटीक Exit Poll 2019 Live….

कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी (Pramod Tiwari) ने एग्जिट पोल ( Exit Poll 2019 ) के आंकड़ों को झूठा बताते हुए कहा कि ऐसा लगता है कि ये एग्जिट पोल इस तरह से बनाए गए हैं ताकि मोदी सरकार को प्रोत्साहन मिले। हमे नहीं पता है कि ये एग्जिट पोल के नंबर कहां से आते हैं। हमने चुनाव के दौरान बहुत यात्रा की, जमीनी हकीकत बिल्कुल अलग है। हमे 23 मई को आने वाले वास्तविक नतीजों पर भरोसा करना चाहिए, क्योंकि इससे पहले भी एग्जिट पोल कई बार काफी गलत साबित हुए हैं। जहाँ कांग्रेस इन आंकड़ों को झुठला रही है वहीँ भाजपा की और से इन आंकड़ों पर विश्वास जताया जा रहा है। भाजपा का कहना है कि एग्जिट पोल के नतीजे देश की जनता के मूड को दर्शा रहे हैं। जो देश की जनता ने पहले ही साफ कर दिया था, उसे ही ये एग्जिट पोल दिखा रहे हैं।

ज्यादातर Exit Poll में मोदी का पीएम बनना मुमकिन है!

जनता की राय

उत्तर प्रदेश भाजपा प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने कहा कि लोगों की राय को ही एग्जिट पोल दिखा रहे हैं। कांग्रेस को यह समझना चाहिए उनका राफेल का मुद्दा विफल हो गया। पिछली बार की तुलना में भाजपा इस बार कहीं बेहतर काम करेगी। समाजवादी पार्टी की प्रवक्ता जूही सिंह ने इन आंकड़ों के बारे में कहा कि हमे पता है कि ए्ग्जिट पोल सही नतीजे नहीं दिखा रहा है, इसके खुद के आंकड़ो में विरोधाभास है। हम जानते हैं कि सपा-बसपा गठबंधन ने काफी अच्छा किया है, 23 मई को आने वाले चुनाव के नतीजों से इनकार नहीं कर सकता है।

Exit Poll के नतीजों पर दिग्गी राजा का गोलमोल जवाब

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.