दिल्ली में भाजपा की क्लीन स्वीप के बाद भी….

0

लोकसभा चुनाव 2019 (loksabha election 2019) के एक्जिट पोल के आंकड़े आने के बाद अब विपक्ष की सभी पार्टियों की परेशानी बढ़ गई है। पूरे देश में मोदी (PM Narendra Modi) सरकार बनने की बात चल रही है। यह भी कहा जा रहा है कि दिल्ली (Delhi) की सातों लोकसभा सीटों पर भी भाजपा (Bharatiya Janata Party) की जीत तय है, लेकिन इसके बाद भी कांग्रेस कयास लगा रही है कि वे राजधानी से कम से कम एक सीट तो बचा लेंगे।

कहा जा रहा है कि इस बार भी दिल्ली से  आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) का खाता नहीं खुलेगा। इसके पहले वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव (loksabha election 2019) में भी दिल्ली की सातों सीटों पर भाजपा ने कब्जा जमाया था।

Exit Poll 2019 में केवल मोदी का प्रमोशन!

 नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली संसदीय सीट से बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी (Manoj Tiwari)  मैदान में हैं और कांग्रेस की ओर से प्रदेश अध्यक्ष शीला दीक्षित (Sheila Dikshit) चुनौती दे रही हैं। जानकारों का कहना है कि शीला दीक्षित दिल्ली से एक सीट कांग्रेस के नाम करने में सफल हो सकती है। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी का कहना है कि दिल्ली में विपक्ष के लिए अब कोई वैकेंसी नहीं है और हम सातों सीटें जीतने जा रहे हैं।

जब मतदान के बाद उन्होंने पार्टी नेताओं के साथ रिजल्ट की समीक्षा की थी तो उसमें भी यही राय थी कि बीजेपी दिल्ली की सातों सीटें जीतने जा रही है। दिल्ली सहित पूरे देश में यह चुनाव ‘मोदी बनाम नो मोदी’ को लेकर लड़ा गया तो फिर मोदी को ही देश चुनेगा, क्योंकि उनके कार्यकाल में पूरा देश विकास की राह पर चला है। विपक्ष को न्यू इंडिया की समझ ही नहीं है। मोदी लोगों के दिलों में बैठ गए हैं। प्रदेश बीजेपी के मीडिया प्रमुख अशोक गोयल का भी दावा है कि हम दिल्ली में सातों सीटें जीतने जा रहे हैं। राष्ट्रवाद और विकास का मुद्दा दिल्ली सहित पूरे देश में चला है। कार्यकर्ता पहले से ही सभी सीटों पर जीत की जानकारी दे रहे थे।

EXIT POLL 2019 : ऑस्ट्रेलिया का हवाला देकर एक्जिट पोल खारिज!

वहीँ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित का मानना है कि दिल्ली के चुनाव परिणाम चौंकाने वाले होंगे। हमें लोगों का उचित रेस्पॉंस मिला है। परिणामों की जानकारी तो 23 मई को ही मिल पाएगी। एक्जिट पोल को फैसला नहीं माना जा सकता है। चुनाव प्रचार के दौरान पूरी दिल्ली में कांग्रेस को भरपूर रेस्पॉंस मिला, जिसके आधार पर हम कह सकते हैं कि दिल्ली में हमारी पोजिशन स्ट्रॉंग है।

EXIT POLL 2019 के एक्शन पर ममता का रिएक्शन

Share.