Lok Sabha Election 2019 : इंदौर लोकसभा सीट से सिंधिया..!

0

एक तरफ इंदौर की राजनीति (Indore Politics) में भाजपा (BJP) की ओर से ताई और भाई का नाम का खेल चल रहा है| वैसे ही कांग्रेस भी इंदौर की संसदीय सीट को हासिल करने के लिए कोई बड़ा नाम सामने लाने की तैयारी कर रही थी, जो पूरी हो चुकी है| इस लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) में कांग्रेस उन सीटों पर कब्जा हासिल करने की जुगत में लगी है, जिन पर पिछले कई सालों से भाजपा का कब्जा था| भाजपा में चल रहे 75 पार के खेल का कांग्रेस (Congress) फायदा उठाना चाह रही है| कांग्रेस ने जहां बीजेपी का गढ़ भेदने के लिए भोपाल में दिग्गज नेता दिग्गी को चुनाव में उतारा हैं, वहीं अब इंदौर में भी कांग्रेस के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia May Contest Election From Indore ) पर दांव लगाया जा रहा है|

इंदौर में भी चौकीदार विवाद, कांग्रेसियों के खिलाफ मामला दर्ज

Image result for इंदौर से ज्योतिरादित्य सिंधिया

इंदौर से ज्योतिरादित्य सिंधिया! (Jyotiraditya Scindia May Contest Election From Indore )

सूत्रों के अनुसार, कांग्रेस के आलाकमान इस बार इंदौर सीट के लिए किसी ऐसे नाम की तलाश में थे, जिसका दबदबा ताई यानी सुमित्रा महाजन और सफाई की देवी कहलाने वाली इंदौर की महापौर मलिनी गौर से अधिक रहे| इस सीट से ताई पिछले आठ बार से लगातार जीतती आ रही है, इसीलिए कांग्रेस भाजपा की छाप को छुडाने के लिए ज्योतिरादित्य सिंधिया को इंदौर की सीट से चुनावी मैदान में उतार रहे हैं| बहरहाल, ये जानकारी केवल सोशल मीडिया के सूत्रों से मिली है, लेकिन पार्टी की ओर से अभी तक इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है| वहीं कमलनाथ सरकार के लोक निर्माण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने भी इन अटकलों के बारे में बयान दिया|

Indore News : एक ने पत्रकारों को तो दूसरे ने भगवान को कहा ‘चौकीदार’

Image result for इंदौर से ज्योतिरादित्य सिंधिया

खतरे में कांग्रेस

मंत्री सज्जन सिंह वर्मा (Sajjan Singh Verma) ने बताया, “मैंने अपनी ओर से सिंधिया का नाम इंदौर सीट (Indore Lok Sabha Seat ) से कतई नहीं सुझाया| मीडिया के एक तबके ने सिंधिया के बारे में पूछे गये प्रश्न पर मेरे उत्तर को काट-छांट कर पेश किया है| कुछ पत्रकारों ने मुझसे पूछा था कि चूंकि इंदौर लोकसभा क्षेत्र में बड़ी संख्या में मराठीभाषी मतदाता रहते हैं| ऐसे में यदि (मराठीभाषी) सिंधिया इस सीट से चुनाव लड़ते हैं, तो कैसा रहेगा? इस प्रश्न पर मैंने जवाब दिया था कि यदि कांग्रेस आलाकमान उन्हें इंदौर से चुनाव लड़ाने का फैसला करता है, तो वह जरूर जीत हासिल करेंगे| चूंकि सिंधिया के सशक्त नेतृत्व के कारण ही हम गुना सीट लगातार जीत रहे हैं| ऐसे में यदि उन्हें इंदौर क्षेत्र से लड़ा दिया जायेगा, तो कांग्रेस के लिये गुना सीट खतरे में पड़ सकती है|

Lok Sabha Election 2019 : सुमित्रा ताई की जगह इंदौर से नए नाम की तलाश 

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

 

Share.