आखिर क्यों माया के पैरों में आई डिंपल

0

आप सभी डिंपल के बारे में तो जानते ही होंगे, जो गालों पर पड़े तो खूबसूरती में चार चांद लगा देते हैं। लेकिन मजबूरी और माया इंसान से क्या कुछ नहीं करवाती। मजबूरी में तो गधे को भी बाप बनाना पड़ता है यह तो सुना ही होगा। मजबूरी में माया के लिए डिंपल भी पैरों में पड़ जाती है। यहां हम ना तो गालों पर पड़ने वाले डिंपल की बात कर रहे हैं और ना ही लोभ वाली माया की। यहां बात की जा रही है यूपी की ‘भाभी’ और ‘बुआ’ की। यहां हम बात कर रहे हैं अखिलेश यादव की धर्मपत्नी ‘डिंपल यादव’ और उनकी बुआ ‘मायावती’ की।

चुनाव आयोग ने जब्त की 524 करोड़ की ड्रग्‍स

राजनीति अच्छे-अच्छों को किसी के भी चरणों में झुकाने की ताकत रखती है। और अभी देश में लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections 2019) चल रहे हैं। तीन चरणों के मतदान संपन्न हो चुके हैं और चौथे चरण की तैयारियां चल रही हैं। ऐसे में कन्नौज में बसपा सुप्रीमो मायावती चुनाव प्रचार करने पहुंची थी। उत्तरप्रदेश में समाजवादी पार्टी (SP) और बहुजन समाजवादी पार्टी (BSP) गठबंधन में चुनाव लड़ रही हैं। इसी वजह से कन्नौज सीट से गठबंधन की तरफ से डिंपल यादव चुनावी मैदान में हैं। बुआ अपना फर्ज निभाते हुए डिंपल के प्रचार के लिए कन्नौज पहुंची थी। जब मायावती मंच पर पहुंची तो डिंपल ने स्मृति चिन्ह से बुआ का सम्मान किया। इसके बाद डिंपल यादव मायावती के चरणों में आ गईं। मतलब कि डिंपल ने मायावती के पैर छुए और जीत का आशीर्वाद लिया।

PM Modi Road Show live : काशी में मोदी का मेगा शो

मायावती ने तुरंत डिंपल के सिर पर हाथ रखा और उन्हें जीत के लिए आशीर्वाद दिया। मायावती ने कन्नौज में जनता को संबोधित किया और डिंपल के लिए वोट मांगे। इस दौरान जनता को मंच से संबोधित करते हुए माया ने कहा कि, गठबंधन के बाद वे डिंपल को अपनी बहू मानती हैं। उन्होंने जनता से अपील की, कि सभी लोग डिंपल को भारी मतों से विजयी बनाएं और फिर से एक बार संसद पहुचाएं। मायावती ने कहा कि, सपा अध्यक्ष अखिलेश ने हमेशा ही उनका एक बड़े की तरह सम्मान किया है। उन्होंने कहा की भारतीय जनता पार्टी ने उनके गठबंधन को तोड़ने की हर संभव कोशिश की। लेकिन उनका कोई भी हथकंडा इसमें सफल नहीं हो सका, और न कभी होगा।

प्रेस वार्ता से भागते हैं पीएम मोदी – अखिलेश

सभा को संबोधित करते हुए मायावती ने भाजपा और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए माया ने कहा कि आजादी के बाद से देश पर कांग्रेस का राज रहा लेकिन फिर भी गरीबों और दलितों का उत्थान नहीं हो सका। वहीं भाजपा पर निशाना साधते हुए माया ने कहा कि भाजपा के शासनकाल में भी यह सब असंभव लगता है। भाजपा शहीदों की शहादत तक को भुनाना चाहती है। आगे माया ने कहा कि, मुझे पूरा यक़ीन है की आप लोग ‘नमो-नमो’ कहने वालों का मुंह हमेशा के लिए बंद करने वाले हैं।

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.