website counter widget

Poem : राष्ट्रीय युवा दिवस

0

जो वक्त की लहरों से ना टूटे (Jo Waqt Ki Lahro Se Na Tute) , वो चट्टान है युवा
जो लक्ष्य के लिए पर्वत उठा ले, वो हनुमान है युवा
परिश्रम के मावे से बना, मिष्ठान है युवा
धरा की लम्बाई, गगन की ऊंचाई, सागर की गहराई है युवा
इतिहास का गौरव, वर्तमान की दरकार, भविष्य की बुनियाद है युवा
और भारत को सोने की चिड़िया बनाने का, अंतिम अरमान है युवा………

” भारतीय वसुधैव कुटुम्बकम् ” के जयघोष से भारत को सम्पूर्ण विश्व में गौरान्वित करने वाले युगपुरुष
स्वामी विवेकानंद जी की 155 वी जयंती पर मनाये जाने वाले “राष्ट्रीय युवा दिवस” की हार्दिक शुभकामनाये |विश्वंभर नाथ तिवारी (कला संपादक )

Ashfaqulla Khan Poems : अशफ़ाकउल्ला खाँ की चुनिंदा कविता

Kabir Ki Sakhiyan : कबीर के अनमोल वचन

हाकिम बहरे के बहरे

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.