कैंसर को बुलावा देता है यह तरीका

0

खूबसूरत दिखने के लिए लोग क्या-क्या नहीं करते हैं| पिछले कई वर्षों से स्पा और पैडीक्योर का काफी चलन रहा है| आजकल पैडीक्योर के लिए लोग नए तरीके का प्रयोग कर रहे हैं, जिसमें फिश स्पा का चलन बढ़ रहा है, आज हम आपको पैडीक्योर से होने वाले नुकसान के बारे में बता रहे हैं, जिसके बारे में जानकर आप भी चौंक जाएंगे|

फिश स्पा में छोटी-छोटी मछलियों से भरे टैंक में पैर डालकर मृत कोशिकाओं को निकाला जाता है| यदि आप भी फिश स्पा कराने की सोच रहे हैं तो पहले नीचे बताई गई जानकारी एक बार जरुर पढ़ लें, शायद इसे पढ़ने के बाद आप अपना इरादा बदल लेंगे|

एक शोध में बताया गया है कि जो मछलियां आपके पैरों की खूबसूरती बढ़ाती हैं, वे आपके लिए जानलेवा भी साबित हो सकती हैं| कहा जा रहा है कि इससे एचआईवी और हेपेटाइटिस सी जैसी बीमारियां तेजी से फ़ैल रही हैं| फिश स्पा से वायरस तेजी से फ़ैल रहे हैं, ऐसे में डायबिटीज या जिनका प्रतिरक्षा तंत्र कमजोर है, उन्हें तो इससे दूरी बनाकर ही रखना चाहिए|

शोध में यह भी बताया गया है कि यदि कोई कस्टमर एचआईवी वायरस या हेपेटाइटिस से पीड़ित है और पैडीक्योर के दौरान खून निकलता है तो इन्फेक्शन फैलने की आशंका बढ़ जाती है| विदेशों में कई जगह तो फिश स्पा पर बैन लगा दिया गया है|

Share.