website counter widget

सेक्स के दौरान महिलाओं का आंखें बंद करने का राज

0

सेक्स जिसका नाम सुनते ही अच्छे-अच्छों के चेहरे शर्म से लाल हो जाते हैं। इस पर बात करना भी हमारे देश में वर्जित माना जाता है। लेकिन सेक्स को लेकर कई तरह के शोध किए गए हैं और लगातार होते भी जा रहे हैं। इन सभी शोधों में कई तरह की जानकारियां भी निकलकर सामने आती रहती हैं। हालांकि सेक्स को लेकर हर किसी के दिल में कई तरह की बातें और सवाल उभरते हैं लेकिन वे इस पर बात नहीं कर पाते। वहीं सेक्स पर हुए शोधों में कई बार तो कई चौकाने वाले नतीजे भी निकलकर सामने आते हैं जिनको जानकार सभी हैरान रह जाते हैं।

हालांकि पार्टनर्स को सुख की अनुभिति सेक्स ही कराता है और यही दोनों के बीच के रिश्तों को मजबूती भी प्रदान करता है। हालांकि कई लोगों के मन में यह सवाल जरूर होता है की सेक्स के दौरान महिलाएं अपनी आंखें बंद क्यों कर लेती हैं। शोध में बताया गया है जो महिलाएं सेक्स के दौरान आंख बंद नहीं करती उन्हें किसी न किसी तरह की समस्या हो सकती है।

हालांकि ऐसा जरूरी नहीं है लेकिन उनका आंख बंद न करना किसी समस्या की तरफ इशारा जरूर करता है। चलिए जानते हैं उनके इस राज के बारे में।

इस पर किया गया के शोध बताता है कि जिस तरह इंसान छींकते वक़्त बिना इच्छा के भी अपनी आंखें बंद कर लेता है ठीक उसी तरह महिलाएं क्लाइमेक्स पर पहुंचने पर चाहकर भी अपनी आंखे खुली नहीं रख सकती। इस बात का दावा शोधकर्ताओं ने अपने शोध में किया है।

उन्होंने बताया, जब महिलाओं को चरमसुख यानी ऑर्गेज्म की अनुभूति होती है तो उनके ग्लैंड से एक तरल स्त्रावित होता है। यह एक विशेष तरह का हार्मोन होता है जो उनके दिमाग को आंखे बंद करने का संकेत भेजता है।

लेकिन यदि कोई महिला सेक्स से संतुष्ट नहीं है या इस दौरान आंखे बंद नहीं होती तो इसका मतलब होता है कि उसे अभी सेक्स का भरपूर आनंद मिल रहा है और वह चरमसुख तक नहीं पहुंची है। महिलाओं का आंख बंद करना पूर्ण संतुष्टि दर्शाता है।

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.