सेक्स के दौरान भूलकर भी ना करें थूक का इस्तेमाल

0

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि हर किसी की जिंदगी में सेक्स का बेहद अहम रोल होता है। सेक्स ही पार्टनर के रिश्ते मजबूत बनते हैं और दोनों पार्टनर के बीच भावनात्मक जुड़ाव होता है। लेकिन कई बार कपल्स सेक्स के दौरान जल्दबाजी दिखाते हैं जो कई बार समस्या खड़ी कर देता है। सेक्स के दौरान कभी जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए बल्कि इसे भरपूर तरीके से इंजॉय करना चाहिए। क्योंकि सेक्स व्यक्ति को तनाव से मुक्त करता है।

अधिकतर लोग सेक्स के दौरान चिकानाई के लिए ल्यूब का इस्तेमाल करते हैं। दरअसल सही तरह से पेनीट्रेशन के लिए और वैजाइनल ड्राइनेस को ख़त्म करने के लिए लोग इसका इस्तेमाल करते हैं। अगर वैजाइनल ड्राइनेस रहती है तो ऐसे में पेनीट्रेशन में काफी परेशानी होती है इसलिए लोग ल्यूब का इस्तेमाल करते हैं।

चिकनाई के लिए अधिकतर पुरुष DIY सॉल्यूशन का इस्तेमाल करते हैं जैसे कि थूक, वैसलीन, तेल आदि। इसे आम भाषा में जुगाड़ कहा जाता है। लेकिन अधिकतर लोगों को इस बात का पता नहीं होता कि उनकी ये जुगाड़ उन्हें एक बेहद खतरनाक बीमारी एड्स से संक्रमित कर सकती है। जी हां यदि चिकनाई के लिए कुछ न मिलने पर आप भी थूक का इस्तेमाल करते हैं तो सावधान हो जाइए। क्योंकि इसके इस्तेमाल से आपको एड्स हो सकता है और इसके अलावा आपकी साथी को वैजाइना में इंफेक्शन भी हो सकता है।

कई लोग सेक्स के दौरान वैसलीन का भी इस्तेमाल करते हैं। लेकिन वैसलीन पेट्रोलियम से बना होता है जो इंफेक्शन का खतरा बढ़ा देता है। पेट्रोलियम जेली लगाने से बैक्टिरियल वैजिनोसीस होने का खतरा काफी बढ़ जाता है।

कई लोग ल्युब्रिकेशन के लिए नारियल के तेल का भी इस्तेमाल करते हैं और समझते हैं कि इससे किसी तरह का कोई नुकसान नहीं होगा। हालांकि लोगों की यह सोच काफी हद तक सही भी है। लेकिन क्या आपको पता है कि नारियल का तेल कंडोम का लैटेक्स कम कर देता है जिससे इसके फटने का खतरा बढ़ जाता है।

इन दो तरह की होती हैं सेक्स इच्छाएं

Share.