जवानी की दहलीज पर पहुंचते ही हर लड़की करती है ये काम

0

जब भी कोई लड़की जवानी की दहलीज़ पर कदम रखती है तो वह इन सबसे खूबसूरत लम्हों को बेहद खुल के जीना चाहती है। जब भी लड़कियां जवानी के दौर में पहुंचती हैं तो खुद को हर कैद से आजाद रखना चाहती हैं। जवानी के जोश में लड़कियां अच्छे और बुरे की समझ भी नहीं कर पातीं। हालांकि इस दौर में लड़कियां कुछ भी कर गुजरने से पीछे नहीं हटतीं। इस दौर में लड़कियां अपने दिमाग की बात सुन्ना भी बंद कर देती हैं और सिर्फ अपने दिल की करती हैं। चलिए जानते हैं कि जवानी की दहलीज पर पहुंचते ही लड़कियों के दिल में क्या आता है।

हर जवान लड़की अपने शरीर की देखभाल ज्यादा अच्छे से करती है। विशेषकर अपने बालों, नाखून, चेहरा, हाथ-पैरों का ध्यान ज्यादा रखती हैं। लड़कियां मेकअप भी करना पसंद करती हैं ताकि हर मर्द उन पर फ़िदा हो जाए।

इस दौर में पहुंचते ही लड़कियों के शरीर में डिंब-ग्रंथि का विकास होता है। यह वह ग्रंथि होती है जो एस्ट्रोजन व प्रोजेस्ट्रॉन नामक हार्मोन्स को रक्त में परिवर्तित करती है। जवानी के दिनों में ही हर लड़की के जनन अंगो का विकास होता है। इस दौरान कई परिवर्तन लड़कियों के अंदर दिखाई देते हैं और उन्हें मासिक धर्म शुरू होता है।

हर लड़की को जवान होने पर सम्भोग की इच्छा भी जाग्रत हो जाती है। हर लड़की अपने जवानी के दिनों में यही चाहती है कि उसका बॉयफ्रेंड उसे बेहद प्यार करे और उसे चरमसुख तक पहुचाएं। इस दौरान ही लड़कियों के ब्रेस्ट और हिप्स का विकास होता है।

जवानी के उफान पर लड़कियों के शरीर में कई तरह के बदलाव होते हैं और उनमे कई तरह के हार्मोन भी उत्सर्जित होते हैं। इस दौरान लड़कियों की उत्तेजना भी बढ़ जाती है और उनकी बॉडी में भी निखार आता है।

हार्मोन में होने वाले बदलाव के कारण कई बार जवानी में लड़कियां सेल्फ सेक्स की तरफ भी आकर्षित हो जाती हैं। संतुष्टि प्राप्त करने के लिए कई बार वे मास्टरबेशन का सहारा भी लेती हैं।

Share.