ऐसे करें मतलबी और चालाक इंसानों की पहचान

0

हम रोज कई लोगों से मिलते हैं| सुबह उठने से लेकर रात तक कई लोगों से हमारा पाला पड़ता है| घर के लोग, पड़ोसी, दूध वाला, प्रेस वाला, सब्जी वाला, मित्र, जान-पहचान वाले, कॉलेज या ऑफिस के दोस्त बस या ट्रेन या पैदल चलने के दौरान कई लोगों से मुलाक़ात होती है| इनमें से हमें यह नहीं पता होता है कि कौन हमारा मित्र है और कौन शत्रु| हम अपने जीवन में सबसे अधिक उन्हें मानते हैं, जो हमारे सबसे अधिक करीब होते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि जिसे आप अपने करीब मानते हैं वह कहीं मतलबी या चालाक तो नहीं?

हम कई लोगों पर बहुत जल्दी विश्वास करने लगते हैं, लेकिन जब हमें उस इंसान की असलियत पता चलती है, तब हम कहते हैं कि काश उस इंसान को पहले ही पहचान लिया होता| आज हम आपको बता रहे हैं कि कैसे पहचान करें कि कौन आपका मित्र है और कौन आपका दुश्मन|

ऐसे करें पहचान

आपको यदि किसी इंसान के बारे में कुछ पता लगाना है या फिर जानना है कि वह मतलबी या चालाक तो नहीं तो इसके लिए आपको थोड़ी सी मानसिक एकाग्रता की आवश्यकता है| सबसे पहले तो उस व्यक्ति की सारी गतिविधियों पर नज़र रखें और गौर करें कि वह आपके भरोसे के लायक है या नहीं| उसके स्वभाव को समझें| ऐसा दोस्त जो केवल और केवल काम के लिए आपसे बात करे, वह मतलबी है| ऐसे व्यक्ति से जल्द से जल्द दूरी बना लें|

जो आपको धोखा दे या झूठ बोले

ऐसे व्यक्ति से तुरंत दूरी बना लेनी चाहिए, जो कभी आपको धोखा दे या झूठ बोले| आपकी निजी बातों को जो दूसरों को बताए, वह आपकी मित्रता के लायक नहीं हो सकता| ऐसा मित्र जो बात-बात पर झूठ का सहारा लेता हो, उससे भी मित्रता नहीं रखनी चाहिए|

अचानक बदल जाए

ऐसा यदि कभी हो कि कोई आपको दोस्ती का एहसास कराता था, लेकिन अचानक वह बदल गया, क्यों? क्योंकि उसको आपसे जो मतलब था, वह पूरा हो गया| ऐसा इंसान भी चालाक और मतलबी होगा| यदि काम निकल जाने के बाद कोई अचानक नकारात्मक हो जाए| यदि आपका मित्र आपकी बात में दिलचस्पी नहीं जताते तो इसका मतलब है कि उन्हें आपकी फिक्र नहीं| वह आपके सच्चे मित्र नहीं, वह केवल मतलब के लिए आपसे दोस्ती रखते हैं|

Share.