जिंदगी का अहम चरण अकेलापन

0

अकेला होना क्या वाकई इतना बुरा होता है कि लोग अकेले होने से डरते हैं। अकेला होना किसे कहते हैं, क्या परिवार से दूर रहना अकेलापन है, या किसी दोस्त का ना होना अकेलापन है या फिर किसी भी रिश्ते का न होना अकेलापन है। अकेलापन क्या है ये जानना भी जरूरी होता है। लोग हमेशा यही सोचते हैं कि अकेला मतलब सभी रिश्तों से दूर। एकांत या अकेलापन भी आपकी जिंदगी का अहम चरण होता है। इसलिए आपको चाहिए कि इसका मज़ा उठाएं।

 अपने आप से मिलें

जीवन में आप न जाने कितने लोगों से मिलते हैं। ये सामान्य बात है, लेकिन प्रश्न ये नहीं हैं,प्रश्न ये है कि क्या आप कभी अपने आप से मिले हैं। जवाब हां या ना दोनों ही हो सकता है। लेकिन जब आप अकेले होते हैं तो आप अपने आप से साक्षात्कार करें और जाने अपने अंदर की अच्छी बुरी बातों को।

खुश रहें हमेशा

खुश रहना या ना रहना आपके ऊपर निर्भर करता है। ये आपके ऊपर है कि आप किस तरह चीजों को लेते हैं। इसलिए इसको भी आपको निश्चित करना होगा कि आप इस फेज को कैसे ट्रिट करते हो। लेकिन देखा जाए तो ये वक्त होता है जब आप अपने बंधें मन को पूरी आजादी दें। अपनी मनपंसद की चीजें करें क्योंकि ऐसा करने से आप खुश भी रहेंगे और संतुष्ट भी।

एंजॉय करें

अकेले होना किसे अच्छा लगता है, लेकिन देखा जाए तो इसमें भी एक अलग मज़ा है। आप अकेले हैं तो किस बात की फ्रिक है। जैसे आप सभी चीजों को एंजॉय करते हैं, अकेलेपन को भी एंजॉय कीजिए। वो सब काम करें जिसके बारे में आप सोचते थे कि कभी वक्त मिलेगा तो करूंगा या करूंगी। तो वक्त आपके पास है इसको करें एंजॉय।

Share.