दिवाली की रात करें धन वर्षा के विशेष उपाय

0

भारतीयों द्वारा ग्रहो के मानवीय जीवन में होने वाले प्रभाव को बड़े ही गहराई से अध्ययन किया गया है| हमारे सारे त्यौहार के पीछे लोक कहानी के साथ साथ ग्रहो का प्रभाव भी सम्मिलित होता है | दीपावली का त्यौहार भी उनमे से एक है | ज्योतिष के हिसाब से वर्ष में ४ राते किसी भी उपाय के लिए सबसे प्रभावकारी साबित होती है ये राते है – राखी , दशहरा, होली और दिवाली की रात | दिवाली की रात विशेष रूप से लक्ष्मी जी की प्रसन्नता के लिए महत्व की है | दिवाली की रात लक्ष्मी पूजा के उपाय चमत्कारी फल प्रदान करते पाए गए है |

दिवाली की रात निशीथ काल याने रात्रि लगभग १० से १२ बजे का समय अत्यंत सिद्धि दायक होता है | इस समय लक्ष्मी प्राप्ति के निम्न उपाय आपकी जीवन में अभूतपूर्व परिवर्तन कर सकते है –

१. इस समय श्री लक्ष्मी जी का विधि पूर्वक हवन (अग्नि प्रज्जवलित कर आहूति के साथ ) करना चाहिए |
२. अगर श्री लक्ष्मी जी का हवन ना कर सके तो इनमें से किसी भी पाठ का ११ बार, ७ बार अथवा ५ बार अवश्य पाठ करे
अ – श्री सूक्त
ब – श्री महालक्ष्मी अष्टोत्तर सत नाम स्त्रोतम
स – श्री महालक्ष्मी अष्टकम
३. अगर पाठ करना भी संभव ना हो सके तो इन मंत्रो में से किसी का यथा संभव पाठ करे –
अ – ॐ लक्ष्मी नारायण नम:
ब – एकाक्षरी मंत्र – “श्रीं”
स – ॐ ऐं क्लीं महालक्ष्म्यै नम:
द – ॐ ऐं क्लीं सौ:

और अगर उपर्युक्त मंत्रो  का जाप भी संभव ना हो तो लक्ष्मी जी या विष्णु जी के किसी भी स्तोत्र का यथाशक्ति जप दिवाली के रात में निशीथ काल (रात १० से १२ के बीच) जरूर करे |

श्री लक्ष्मी की कृपा आप सब पर इस दिवाली खूब बरसे | इस शुभकामना के साथ |

Share.