विमान यात्रियों को नए साल पर नई सौगात

0

आने वाले नए साल में विमान यात्रियों को उड़ान के दौरान इंटरनेट कनेक्टिविटी का नया तोहफा मिल सकता है। संचार मंत्रालय ने जानकारी दी है कि इंटरनेट कनेक्टिविटी के नियमों के प्रारूप को अंतिम रूप प्रदान कर दिया गया है। संचार मंत्री मनोज सिन्हा के अनुसार, इन नियमों के प्रारूप को विधि मंत्रालय के पास भेज दिया गया है। आगे उन्होंने कहा कि इन प्रारूपों में ज़रूरत के मुताबिक विधि मंत्रालय द्वारा संशोधन किया जाएगा और सुझाव के साथ लगभग 10 दिन के भीतर प्रारूप के वापस आने की सम्भावना है।

सिन्हा ने जानकारी दी है कि अगले साल की शुरुआत में इन नियमों को अंतिम रूप प्रदान कर अधिसूचित करने की संभावना है। विश्व के कई देश उड़ानों के दौरान यात्रियों को इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध कराते हैं, लेकिन भारत अपने वायु क्षेत्र में किसी भी विमान में इंटरनेट की सुविधा की अनुमति प्रदान नहीं करता। नागरिक उड्डयन मंत्रालय और दूरसंचार मंत्रालय मिलकर पिछले 2 सालों से इस दिशा में प्रयास कर रहे हैं। उन्हीं के प्रयासों के फलस्वरूप गृह मंत्रालय ने इन नियमों के लिए अपनी अनुमति प्रदान कर दी है, लेकिन जब तक यह नियम अधिसूचित नहीं होते, तब तक सेवा शुरू नहीं की जा सकती।

उड़ानों के दौरान यात्रियों को इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध कराने की अनुमति के साथ-साथ सुरक्षा के लिए भी कई कदम उठाए गए हैं। यात्रियों को इंटरनेट की अनुमति प्रदान करने के साथ गृह मंत्रालय ने सर्वर को भारत में ही रखने की शर्त रखी है। अब इन नियमों के अधिसूचित होने का इंतज़ार करना है और अधिसूचित होने के बाद दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनी को लाइसेंस लेना होगा। इसके बाद संचार कंपनी इंटरनेट की सुविधा यात्रियों को उपलब्ध करा पाएगी।

इमारत से टकराया एयर इंडिया का विमान

OMG : लैंडिंग के दौरान टूटा विमान और फिर…

कतर एयरवेज के विमान से टकराया पानी का टैंकर

Share.