बैंक फ्रॉड के एक मामले में जरदारी गिरफ्तार

0

पाकिस्‍तान में सत्ता का बदलाव कई दिग्गज नेताओं के लिए परेशानी का सबब लेकर आया है | वहां 2018 में हुए चुनाव में इमरान खान की पार्टी की जीत और उनके सत्‍ता में आने के बाद कई नेताओं को भ्रष्‍टाचार के मामले में गिरफ्तार किया जा चुका है। पाकिस्‍तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ पहले से ही भ्रष्‍टाचार के मामले में जेल में हैं। उन्‍हें पनामा पेपर्स मामले में सुप्रीम कोर्ट के एक आदेश के तहत 2017 में प्रधानमंत्री पद के लिए भी अयोग्‍य ठहरा दिया गया था, जिसके बाद उन्‍हें पद से इस्‍तीफा देना पड़ा था। अब पाकिस्तान के एक और राजनेता को गिरफ्तार ( Asif Ali Zardari Arrested ) कर लिया गया है|

BJP सांसद ने सिपाही को मारा थप्‍पड़

प्राप्त जानकारी के अनुसार, पूर्व राष्‍ट्रपति आसिफ अली जरदारी को गिरफ्तार ( Asif Ali Zardari Arrested ) कर लिया गया है। उन्‍हें बैंक फ्रॉड के एक मामले में गिरफ्तार किया गया है। इस्‍लामाबाद हाईकोर्ट ने उनकी जमानत याचिका खारिज कर दी, जिसके बाद उनकी गिरफ्तारी का रास्‍ता साफ हो गया। वह पहले से इस मामले में जमानत पर थे, लेकिन सोमवार को अदालत ने जमानत अवधि में विस्‍तार देने से इनकार कर दिया।

ऑपरेशन ऑलआउट: दो और दुश्मन ढेर

पाकिस्‍तान की पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो के पति और पीपीपी अध्‍यक्ष बिलावल भुट्टो के पिता फिलहाल सांसद हैं। उनकी बहन फारयाल भी राजनीति से जुड़ी हैं। हालांकि कोर्ट ने उनकी जमानत अवधि में भी विस्‍तार नहीं दिया, पर फिलहाल फारयाल को गिरफ्तार नहीं किया गया है। फिलहाल इसकी वजह नहीं बताई गई है कि उन्‍हें क्‍यों नहीं गिरफ्तार किया गया है।

सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर किस ख़बर को बताया झूठ ?

गौरतलब है कि पाकिस्‍तान पीपुल्‍स पार्टी (पीपीपी) के नेता जरदारी पर करोड़ों डॉलर के धन की हेराफेरी का आरोप है। इस मामले में उनकी बहन फारयाल तालपुर भी आरोपी हैं। इन पर कई फर्जी बैंक अकाउंट रखने का आरोप है। दोनों इस मामले की सुनवाई के दौरान सोमवार को कोर्ट में पेश भी हुए थे, पर तब उन्‍हें गिरफ्तार ( Asif Ali Zardari Arrested ) नहीं किया गया था। लेकिन दो घंटे बाद ही भ्रष्‍टाचार निरोधी निकाय जवाबदेही ब्‍यूरो ने उन्‍हें हिरासत में ले लिया।

Share.