आईएसआई क्यों खरीद रही पुराने नोट ?

0

भारत में 500 और 1000 के पुराने नोट बंद हो चुके हैं, इसके बाद भी कई बार  लोग इन नोटों की तस्करी करते पकड़ा रहे हैं| अब जांच एजेंसियों ने नया खुलासा किया है|

जांच एजेंसी के अनुसार, जाली नोटों के कारोबार में लगे सिंडिकेट इन नोटों को छिपाकर नेपाल पहुंचा रहे हैं| पाकिस्तान में मौजूद आईएसआई और ‘डी’ कंपनी से जुड़े लोग इस काले कारोबार में लगे हैं| वे पुराने भारतीय नोटों को कराची और पेशावर की प्रिंटिंग प्रेस में भेज रहे हैं|

बताया जा रहा है कि पाकिस्तान में एक्सपर्ट भारतीय नोटों पर लगे रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के सिक्योरिटी वायर को निकालकर नए 500, 2000 और 50 के जाली नोटों पर लगा देते हैं, जिससे ये असली नोट के जैसे ही दिखते हैं| जब भारत में कई तस्करों को गिरफ्तार किया गया और उनसे पूछताछ की गई, तब आरोपियों ने बताया कि पुराने भारतीय पुराने नोट को नेपाल भेजते हैं, जहां पाकिस्तानी स्मगलर उन्हें इसके बदले पैसे देते हैं|

Share.