ट्रंप ने किए हांगकांग विधेयक पर हस्ताक्षर, चीन ने दी चेतावनी

0

वाशिंगटन: अमेरिकी के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (American President Donald Trump) ने बुधवार को हांगकांग (Hong Kong) में लोकतंत्र और मानवाधिकार के समर्थन वाले एक विधेयक पर मुहर लगा दी है । इस विधेयक के अनुसार हांगकांग में लोकतंत्र समर्थकों (Democracy supporters) के मानवाधिकारों का हनन करने वाले अधिकारियों पर पाबंदियां लगाने का प्रस्ताव है। अमेरिकी संसद के दोनों सदनों प्रतिनिधिसभा और सीनेट से यह विधेयक पारित हो चुका है। प्रतिनिधिसभा में इस विधेयक के समर्थन में 417 वोट पड़े और विरोध में सिर्फ एक। वहीं सीनेट में यह विधेयक सर्वसम्मति से पारित हुआ। हांगकांग मानवाधिकार एवं लोकतंत्र अधिनियम 2019 (Hong Kong Human Rights and Democracy Act 2019) संयुक्त राज्य-हांगकांग नीति अधिनियम 1992 (United States-Hong Kong Policy Act 1992) का संशोधन है।

आतंकी गोडसे की भक्त साध्वी प्रज्ञा ठाकुर आतंकवादी

जानकरी के अनुसार ट्रंप ने एक बयान में कहा, “मैं चीन के राष्ट्रपति शी और हांगकांग की जनता का सम्मान करता हूं और मैं इस विधेयक पर हस्ताक्षर कर रहा हूं।” जबकि इस सप्ताह के शरूआत में ट्रंप ने संकेत दिए थे कि वह इस विधेयक पर हस्ताक्षर नहीं करेंगे। हालांकि राष्ट्रपति ट्रंप के इस कदम से चीन भड़क गया है और उसने अमेरिका के खिलाफ बड़े कदम उठाने की धमकी दी है. चीन ने अमेरिका को धमकी देते हुए कहा है कि अब हम इसके खिलाफ कदम उठाएंगे. बीजिंग की ओर से कहा गया कि यह घिनौना कदम है और अमेरिका के भयावह इरादे को बताता है.

कैश को हाथ तक नहीं लगाया, 50 हजार रुपये के प्याज ले उड़े चोर

पिछले दिनों अमेरिकी सीनेट (US Senate) में हांगकांग लोकतंत्र समर्थकों के लिए बिल पेश किया गया था. इस बिल पर अपनी बात रखते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि आपसे कहूंगा कि हमें हांगकांग के साथ खड़ा होना है, लेकिन मैं राष्ट्रपति शी जिनपिंग (Xi Jinping) के साथ भी खड़ा हूं. वह मेरे मित्र हैं. वह एक बेहद भरोसेमंद आदमी भी हैं.

साध्वी प्रज्ञा को बीजेपी ने हटाया

-Mradul tripathi

Share.