website counter widget

UNHRC में पाकिस्तान की हार, उड़ा ऐसा मज़ाक की फिर बौखलाया

0

भारत का पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान (Pakistan) जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटने (Article 370 removed from Jammu and Kashmir) के बाद से ही बौखलाया हुआ है और अपनी इस बौखलाहट मे वह कई देशों के सामने मदद की भीख मांगकर बेइज्जत हो रहा है। वहीं सभी देश खुलकर भारत के समर्थन में आ रहे हैं। अब फिर पाकिस्तान को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मुंह की खानी पड़ी। संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (UNHRC) में कश्मीर पर प्रस्ताव पेश करने के आखिरी पाकिस्तान आवश्यक समर्थन हासिल करने में असफल रहा। वहाँ पाक को किसी भी सदस्य ने समर्थन नहीं दिया, जिसके बाद पाकिस्तान की बौखलाहट और बढ़ गई है।

पुलिस कांस्टेबल ने नाबालिग लड़की से किया दुष्कर्म

जानकारी के अनुसार, संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (United Nations Human Rights Council) की बैठक में अधिकांश सदस्यों ने कश्मीर पर प्रस्ताव रखने के लिए पाकिस्तान का समर्थन करने से इनकार कर दिया। प्रस्ताव पेश करने के लिए पाकिस्तान को कम से कम 16 देशों के समर्थन की जरूरत थी। दुनिया के अलग-अलग देशों के सामने जाकर कश्मीर का रोना रोने वाला पाकिस्तान समर्थन जुटाने में नाकाम रहा। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने इस्लामाबाद से जिनेवा के लिए रवाना होने से पहले कश्मीर पर प्रस्ताव का वादा किया था कि वे बहुमत हासिल कर लेंगे।

बैठक में संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में भारत की प्रथम सचिव कुमम मिनी देवी ने बताया कि जम्मू-कश्मीर भारत का संप्रभु और आंतरिक मामला है। पाकिस्तान (Pakistan) गलत नीयत से सीमा की गलत व्याख्या करने की कोशिश कर रहा है। पाकिस्तान (Pakistan) के कब्जे वाले कश्मीर (PoK) में अन्याय की सीमा पार हो रही है।  हिरासत में लेकर रेप, हत्या जैसी वारदात को अंजाम दिया जा रहा है। ऐक्टिविस्ट्स और पत्रकारों के मानवाधिकारों का उल्लंघन वहां आम है।”

Nirmala Sitharaman Press Conference : निर्मला सीतारमण ने की बड़ी घोषणाएँ

इसके पहले ईयू संसद और पोलैंड के यूरोपीय कंजरवेटिव और रिफार्मिस्ट समूह के सदस्य जारनेकी ने भारत को ‘दुनिया का सबसे महान लोकतंत्र’ करार किया था और पाकिस्तान की अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर आलोचना की थी।

बीजेपी नेता ने दफ्तर में पत्नी को जड़ा थप्पड़, VIDEO VIRAL

     – रंजीता पठारे 

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.