पाकिस्तान ने जिसे समझा दोस्त वो निकला सबसे बड़ा दुश्मन!

0

भारत से आर्टिकल 370 हटाने (Article 370 removed from India) के बाद से ही पाकिस्तान बौखलाया हुआ है, लेकिन अब वह रोने वाला है। पहले ही कई देश उसके विरोध में हैं , अब उसे और बड़ा झटका लगा है। जिसे आजतक पाकिस्तान अपना दोस्त समझ रहा है, उसे लग रहा था कि भारत के खिलाफ उसे वह देश समर्थन देगा, लेकिन अब वहीं देश पाकिस्तान का सबसे बड़ा दुश्मन साबित हो गया। इसके बाद अब पाकिस्तान के लोग अपने प्रधानमंत्री इरमान खान को गालियां दे रहे हैं।

INX मीडिया मामले में चिदंबरम के खिलाफ मिले सबूत!

जानकारी के अनुसार, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान जिसके लिए  ड्राइवर तक बन गए उस देश ने भी कश्मीर मुद्दे पर भारत को समर्थन दे दिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संयुक्त अरब अमिरात के दौरे से पूरे पाकिस्तान में खलबली मची है। यूएई के शहजादे भी कश्मीर मुद्दे पर पीएम मोदी के साथ खड़े हैं।  पाकिस्तानी इसीलिए भी रो रहे हैं क्योंकि इंग्लैंड और अमेरिका तक ने कश्मीर मुद्दे पाकिस्तान का साथ नहीं दिया। पाकिस्तान को यह लग रहा था कि मुस्लिम देश तो उसे समर्थन देंगे ही, लेकिन ऐसा भी नहीं हो पाया।

पतंजलि CEO आचार्य बालकृष्ण AIIMS में भर्ती

जर्मनी की ‘शरण’ में पहुंचा पाकिस्तान

जब कहीं भी बात नहीं बन रही तो भी पाकिस्तान ने हार नहीं मानी और पहुँच गया जर्मनी की शरण में। पीएम इमरान खान ने शुक्रवार को जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल से कश्मीर मुद्दे पर फोन पर बातचीत की और कश्मीर मुद्दे पर समर्थन मांगा। विदेश कार्यालय के अनुसार, मर्केल ने कहा कि जर्मनी हालात पर करीब से नज़र बनाए हुए है। उन्होंने तनाव कम करने तथा मुद्दे को शांतिपूर्ण तरीके से हल करने पर ज़ोर दिया है। विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भी मालदीव के अपने समकक्ष अब्दुल्ला शाहिद को कश्मीर मुद्दे पर जानकारी दी। मालदीप ने कहा कि भारतीय संविधान के अनुच्छेद 370 के संबंध में भारत का फैसला उसका आंतरिक मामला है। इस बयान से भी पाकिस्तान को झटका लगा।

वित्त मंत्री ने किए बड़े ऐलान, जनता को मिलेगी बड़ी राहत

 

Share.