यूएई के राष्ट्रपति सर्वोच्च नागरिक सम्मान देंगे

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के फैन्स सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में है | उनकी इसी लोकप्रियता के कारण उन्हें कई बार सम्मानित किया जा चुका है| पहले उन्हें संयुक्त राष्ट्र ने ‘चैंपियंस ऑफ द अर्थ’ के खिताब से नवाजा था और उसके बाद भारत और वैश्विक अर्थव्यवस्था के विकास में पीएम के योगदान को देखते हुए उन्हें ‘सियोल पीस प्राइज 2018’ से सम्‍मानित किया गया था | अब भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की शान में एक और तमगा (PM Narendra Modi Awarded UAE’s Highest Civilian Honour) जड़ गया है।

ऐसा अय्याश और सनकी है किम जोंग उन

दरअसल, यूएई के क्राउन प्रिंस शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान ने गुरुवार को घोषणा की है कि संयुक्त अरब अमीरात दोनों देशों के बीच रिश्तों को नई ऊंचाई पर ले जाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सम्मानित करेगा (PM Narendra Modi Awarded UAE’s Highest Civilian Honour)| उन्होंने कहा, “भारत के साथ हमारे ऐतिहासिक और व्यापक रणनीतिक संबंध हैं, जो मेरे प्रिय मित्र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वपूर्ण भूमिका से मजबूत हुए हैं, जिन्होंने इन संबंधों को बड़ा बढ़ावा दिया है|” उनके प्रयासों को प्रोत्साहित करने के लिए यूएई के राष्ट्रपति उन्हें ‘जायेद मेडल’ से सम्मानित करेंगे|

पिछले महीने क्राउन प्रिंस शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान भारत के दौरे पर आए थे| उस दौरान दोनों देशों का कहना था कि ऐसे देशों पर ‘हरसंभव दबाव’ बनाने की ज़रूरत है, जो आतंकवादी गतिविधियों को समर्थन देते हैं| भारत और सऊदी अरब ने द्विवार्षिक शिखर सम्मेलन बैठकों और सामरिक भागीदारी परिषद के गठन पर भी सहमति जताई थी|

23 बच्चों के खाने में शिक्षक ने क्यों मिलाया ज़हर?

हालांकि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारत दौरे पर आए सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता के बाद मीडिया के साथ संयुक्त बातचीत में दोनों नेताओं में से किसी ने भी पाकिस्तान का संदर्भ नहीं दिया|

प्रिंस मोहम्मद ने अपनी टिप्पणी में चरमपंथ और आतंकवाद को दोनों देशों के लिए चिंता का विषय बताया और कहा, “सऊदी अरब, भारत के साथ पूरा सहयोग करेगा| उन्होंने कहा, जहां तक आतंकवाद और चरमपंथ का मुद्दा है, यह हम दोनों की चिंता है| हम भारत को बताना चाहते हैं कि हम हर तरीके से आप के साथ सहयोग के लिए तैयार हैं| हम सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि पड़ोस के सभी देशों के साथ कार्य करने के लिए तैयार हैं, जिससे आने वाली पीढ़ियों का भविष्य सुरक्षित रहे”

भारत के शक्ति परीक्षण पर अमेरिका का बयान, कहा…

प्रिंस मोहम्मद ने कहा, “भारत ने 100 अरब डॉलर से ज्यादा का निवेश प्रस्ताव दिया है और उनका देश दोनों देशों के लिए निवेश को फायदेमंद बनाने के लिए काम करेगा| उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच संबंध ‘इतिहास से भी पुराने’ हैं और हमारे खून में समाए हुए हैं|

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.