तुर्की ने सीरिया पर हमला कर 277 कुर्द लड़ाकों को ‘मार डाला’

0

सीरिया से अमेरिकी सेना के हटते ही तुर्की लगातार सीरिया में हमला कर रहा है और कुर्दिश लड़ाकों को निशाना बना रहा है. तुर्की के रक्षा मंत्रालय के अनुसार तुर्की के बलों ने पूर्वोत्तर सीरिया में एक बड़े सैन्य अभियान में अभी तक कम से कम 277 कुर्द लड़ाकों को मार दिया है. इस हमले से एक दिन के भीतर 60,000 से अधिक लोग घर छोड़ने को मजबूर हो गए है. यह जानकारी युद्ध की निगरानी कर रहे संगठन सीरियन ऑब्ज़र्वटरी फॉर ह्यूमन राइट्स ने गुरुवार  को दी (Turkey Military Offensive In Syria)। ब्रिटेन से संचालित संगठन ने बताया कि अधिकतर लोग पूर्वी हसाकेह शहर की ओर बढ़ रहे हैं। संगठन के प्रमुख रामी अब्देल रहमान ने बताया है कि सबसे अधिक लोग सीमावर्ती रास-अल अयिन, ताल अब्याद और देरबशिया से घर छोड़ने पर मजबूर  हुए है।

पीएम मोदी और जिनपिंग को लेकर कांग्रेस ने कह दी बड़ी बात

एक संयुक्त बयान में कहा गया, ”सीरिया- तुर्की सीमा के पांच किलोमीटर के दायरे में 4,50,000 लोग रहे हैं और अगर सभी पक्षों ने संयम नहीं बरता और नागरिकों की सुरक्षा को प्राथमिकता नहीं दी तो उन्हें सबसे अधिक खतरा है।” इस बयान पर 14 मानवतावादी संगठनों ने हस्ताक्षर किए हैं और चेतावनी दी है कि ऐसे लोगों की बड़ी संख्या होगी जिनकों सहायता नहीं पहुंचाई जा सकेगी।

Video : कन्या पूजने वाले योगी राज में नारी की बेरहम पिटाई का वीडियो वायरल

जानकारी के अनुसार तुर्की सीरियाई सीमा के 30 किलोमीटर अंदर एक बफर क्षेत्र बनाना चाहता है ताकि 2011 में सीरिया में शुरू गृहयुद्ध के बाद उसकी सीमा में आए 36 लाख शरणार्थियों को वापस भेजा जा सके (Turkey Military Offensive In Syria)। तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोआन ने दावा किया है  कि सीरिया में एक दिन पहले अंकारा द्वारा की गई कार्रवाई में 109 आतंकवादी मारे गए। तुर्की द्वारा सीरिया पर हमले को लेकर लेकर भारत ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है. विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारत तुर्की के एक्शन पर चिंतित है और सीरिया के साथ शांति के साथ बात करने की अपील करता है.

भिखारी पाकिस्तान को चीन ने भीख देने से किया मना

-Mradul tripathi

Share.