अमेरिका के मंत्री ने कहा, ‘मोदी है तो मुमकिन है‘

0

लोकसभा चुनाव 2019 (loksabha election 2019)  के नतीजे सामने आने के बाद भाजपा ने 303 सीटें हासिल कर ऐतिहासिक जीत हासिल की है| चुनाव से पहले मोदी सरकार के नारे ‘नामुमकिन भी अब मुमकिन हैं’ (Modi Hai To Mumkin Hai) को बदलकर बीजेपी ने ‘मोदी हैं तो मुमकिन है’ कर दिया था| पूरे लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा ने ‘मोदी है तो मुमकिन है‘ का नारा बुलंद किया था और चुनावी नतीजों ने वाकई इस नारे को सही साबित भी कर दिया|

रिपोर्ट लिखने के लिए पुलिसवाले ने रिश्वत में मांगी औरत की अस्मत

भाजपा (Bharatiya Janata Party) की इस शानदार जीत के बाद मोदी का गुणगान और बढ़ गया है। भाजपा की जीत के बाद अब आगे की योजनाओं को लेकर भी कार्यकर्ता और समर्थक ‘मोदी हैं तो मुमकिन है’ (Modi Hai To Mumkin Hai) का नारा लगा रहे हैं | अब यह नारा देश से बाहर भी लोकप्रिय हो रहा है| अमेरिका के एक मंत्री ने भी मोदी की तारीफ़ करते हुए यह नारा लगाया है |

दरअसल, अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो ( US Secretary Of State Mike Pompeo) कुछ दिनों में भारत की यात्रा पर आने वाले हैं| अपनी इस यात्रा को लेकर पॉम्पियो इतने उत्साहित हैं कि उन्होंने पीएम मोदी की तारीफ में ‘मोदी हैं तो मुमकिन है’ (Modi Hai To Mumkin Hai) के नारे लगाए|

गौरतलब है कि आज पूरी दुनिया पीएम मोदी की तारीफ करती है| ऐसे में इस लिस्ट में एक नाम और जुड़ गया है और वह है अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो का| उन्होंने बुधवार को यूएस-इंडिया बिजनेस काउंसिल के इंडिया आइडियाज सम्मेलन में कहा, ”जैसा प्रधानमंत्री मोदी ने अपने चुनाव प्रचार के दौरान नारा दिया ‘मोदी है तो मुमकिन है’(Modi Hai To Mumkin Hai) या ‘मोदी मेक्स इट पॉसिबल’, मैं भी भारत और अमेरिका के बीच संबंध को आगे बढ़ते देख रहा हूं|”

Anantnag Terror Attack : मध्यप्रदेश के कॉन्सटेबल संदीप यादव शहीद

पॉम्पियो ने कहा, “मैं इस महीने के अंत में नई दिल्ली की यात्रा, पीएम मोदी और विदेश मंत्री एस जयशंकर से मिलने के लिए बहुत उत्सुक हूं|”

अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो की भारत यात्रा ऐसे समय में होने रही है, जब हाल ही में अमेरिकी प्रशासन ने भारतीय उत्पादों से जीएसपी वापस लेने का फैसला किया है|

अमेरिकी विदेश मंत्री पॉम्पियो 24 से 30 जून तक भारत, श्रीलंका, जापान और दक्षिण कोरिया की यात्रा पर आ रहे हैं| इसी दौरान वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री एस जयशंकर से भी मुलाकात करेंगे|

बॉर्डर पर लश्कर के मॉड्यूल का बिछा जाल!

Share.