थाईलैंड : 7 बच्चे निकले सुरक्षित

0

थाईलैंड में 23 जून से थाम लुआंग गुफा में फुटबॉल कोच और 12 फुटबॉल खिलाड़ी फंसे थे, जिनमें से सात बच्चों को सुरक्षित बाहर निकाला जा चुका है| बच्चों को निकालने के लिए गोताखोरों की मदद ली जा रही है| कमजोर हो चुके बच्चों को गुफा से पहले बाहर निकाला गया| चारों बच्चों को रविवार और तीन बच्चों को सोमवार के दिन निकाला गया| बच्चों को गिफा से निकालने के बाद उन्हें तुरंत एयरएम्बुलेंस से अस्पताल भेजा गया| 6 लोग अब भी अंदर हैं|

चार बच्चों को निकालने के बाद रेस्क्यू ऑपरेशन को 10 घंटों के लिए रोका गया था, इसके बाद फिर से गोताखोरों ने बचाव कार्य शुरू किया| बचाव अभियान के पहले चरण में रविवार को अमरीका, ऑस्ट्रेलिया, चीन, यूरोप और थाईलैंड के विशेषज्ञ शामिल थे| इसके लिए 90 गोताखोर जुटे हैं, जिनमें 40 थाई जबकि 50 अन्य देशों के गोताखोर हैं| गुफा में जिस जगह ये बच्चे जहां फंसे हुए हैं वह उनके उसमें दाखिल होने की जगह से करीब 4 किलोमीटर अंदर है| गुफा में पानी भरा है और माना जा रहा है कि बाकी के बच्चों को निकालने में दो से तीन दिन का समय लगेगा|

दरअसल, ‘वाइल्ड बोर्स’ नाम की इस फुटबॉल टीम के बच्चे गुफा में घूमते हुए पहुंचे थे और तेज मानसूनी बारिश की वजह से गुफा में ही फंस गए| गुफा में काफी पानी भर जाने के बाद फुटबॉल खिलाड़ी अपने कोच के साथ वहीं फंस गए| पानी निकालने के लिए पहाड़ में 100 से भी अधिक छेद किए गए, लेकिन यह भी कारगर नहीं रहा| इस वजह से भी बचाव अभियान को शुरू करने में काफी समय लग गया| बचावकर्मियों ने पहले कुछ दिन इन्हें तैराकी और गोताखोरी सिखाई|

ब्रिटिश गोताखोर जॉन वोलेंनथन और रिक स्टैटन रेस्क्यू ऑपरेशन के हीरो बने| उन्होंने ही सबसे पहले बच्चों को खोजा| बच्चे कीचड़ के बीच एक छोटी सी चट्टान पर बैठे मिले थे| जॉन और रिक दुनिया के सबसे माहिर गोताखोर हैं| 2004 में दोनों ने ब्रिटेन की बुकी होल गुफा की गहराई में जाकर रिकॉर्ड बनाया था|

Share.