दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति पहुंचे भारत

0

दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जेई इन रविवार को नई दिल्ली पहुंच गए हैं| उनके साथ पत्नी किम जुंग-सुक, कैबिनेट के वरिष्ठ सदस्य, अधिकारी और 100 उद्योगपति भी आए हैं। मून का राष्ट्रपति बनने के बाद यह पहला भारत दौरा है|  सोमवार को मून भारत-कोरिया बिजनेस फोरम की बैठक के बाद प्रधानमंत्री मोदी के साथ गांधी मेमोरियल जाएंगे।

दोनों नेता उसके बाद नोएडा के सैमसंग प्लांट पहुंचेंगे| 10 जुलाई को राष्ट्रपति भवन में उनका औपचारिक स्वागत होगा। फिर वे हैदराबाद हाउस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे|  इस दौरान रक्षा क्षेत्र और साइबर सिक्योरिटी में करार होने की उम्मीद है|  इसके अलावा दोनों नेता कारोबार, क्षेत्रीय एवं वैश्विक मुद्दों पर साझा हितों से जुड़े विषयों पर चर्चा करेंगे। दोनों में अमेरिका-चीन ट्रेड वार पर भी बात हो सकती है|

कोरियाई राष्ट्रपति मून की यात्रा से रणनीतिक साझेदारी का दूसरा दौर शुरू हुआ है| शुरुआत मोदी की ‘एक्ट ईस्ट’ नीति से 2015 में हुई थी| भारत दोनों कोरियाई देशों को महत्व देता है| इसी कारण मून नई दक्षिण नीति के तहत ‘थ्री पी’ एजेंडे पर आगे बढ़ना चाहते हैं| थ्री पी में पीपुल्स यानी लोगों की अावाजाही से संबंध बढ़ाना, प्रॉसपेरिटी(समृद्धि) यानी साझेदारी निर्माण और पीस यानी शांति से है|

कारोबार के क्षेत्र में अहम् है दक्षिण कोरिया

भारत में द. कोरिया की सैमसंग, एलजी, हुंडई समेत 500 से ज्यादा कंपनियां हैं| वह भारत की महत्वाकांक्षी डिजिटल इंडिया, स्किल इंडिया और स्टार्ट अप इंडिया में सहयोग कर रहा है। करीब 70 हजार करोड़ रु. जुटाने में मदद कर रहा है| ऐसे में भारत चाहेगा कि कोरिया इन परियोजनाओं में भूमिका और बढ़ाए|

Share.