बांग्लादेश की PM शेख हसीना ने असम में NRC का किया समर्थन

0

नई दिल्ली: इन दिनों बांग्लादेशी प्रधानमंत्री शेख हसीना(Sheikh Hasina)  चार दिवसीय भारत दौरे पर हैं। वह यहाँ वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की इंडिया इकोनॉमिक समिट में हिस्सा लेने आई हैं (Sheikh Hasina Ok With NRC)। भारत आने के बाद शेख हसीना ने कहा कि असम के राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) से बांग्लादेश को कोई आपत्ति नहीं है। इस विषय में न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) अधिवेशन के दौरान प्रधानमंत्री मोदी(PM Narendra Modi) से पहले ही बात हो चुकी है। शेख हसीना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ शनिवार को द्विपक्षीय वार्ता भी करेंगी.

गाँधी जयंती पर RSS कि गणवेश में दिखे नाथूराम गोडसे

विगत सितम्बर माह में असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर सूची जारी कि गई थी। इसमें शामिल होने के लिए लगभग 3 करोड़ 30 लाख 27 हजार 661 लोगों के द्वारा आवेदन दिया गया था। जिसमे से एनआरसी सूची में कुल 3,30,27,661 आवदेकों में से 19,06,657 आवेदक बाहर किया गया था और 3,11,22,004 आवेदकों को सूची में शामिल किया गया था (Sheikh Hasina Ok With NRC)। एनआरसी में लोगों को शामिल करने को लेकर कई तरह की त्रुटियां सामने आई हैं. जिसको देखते हुए असम सरकार ने कहा है कि जिनका नाम एनआरसी में नहीं है उन्हें विदेशी ट्रिब्यूनल के सामने अपनी नागरिकता साबित करने का दोबारा मौका दिया जायेगा।

मोदी को खत लिखने वाले 50 सेलेब्रिटी जाएँगे जेल !

भारत सरकार के द्वारा एनआरसी लिस्ट की मदद से घुसपैठियों की पहचान की जा रही है। एक जानकारी के अनुसार इसमें बड़ी संख्या में बांग्लादेश से आए लोग शामिल हैं। जब शेख हसीना से इस बारे में पूछा गया कि क्या वे प्रधानमंत्री मोदी के इस कदम से संतुष्ट हैं, तो उन्होंने कहा,’बेशक, मुझे एनआरसी से कोई समस्या होती नहीं दिखाई दे रही है। और बांग्लादेशी लोगों को भी इससे घबराने कि जरुरत नहीं है इस बारे में पीएम मोदी से मेरी बात पहले ही हो चुकी है सब ठीक है।

महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर बापू की अस्थियां हुईं चोरी

-Mradul tripathi

Share.