अब टॉयलेट की समस्या से परेशान हुए डोनाल्ड ट्रंप

0

वॉशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (President Donald Trump) ने शुक्रवार को व्हाइट हाउस में कहा कि वो अमेरिकी शौचालयों में 10-15 बार ‘फ्लश’ करने की समस्या के बारे में जानकारी ले रहे हैं. और इससे अमेरिका कि जनता को छुटकारा दिलाना चाहते है. ट्रम्प ने एक उच्च-स्तरीय बैठक में कहा कि सरकार देश के स्नानगृहों एवं शौचालयों में पानी का प्रवाह तेज नहीं होने की समस्याओं को गंभीरता से देख रही है.

SC में Hyderabad Encounter, मानवाधिकार आयोग की टीम कर रही जांच

जानकारी के अनुसार डोनाल्ड ट्रंप के जीवन का ज्यादातर समय रियल एस्टेट सौदों और निर्माण कार्य के व्यवसाय में गुजरा है. उन्होंने कहा, ‘आप नल चालू करते हैं और आपको पानी नहीं मिलता है. वे स्नान करते हैं और पानी टपकता रहता है.’ ट्रंप ने कहा, ‘लोगों को एक बार की जगह 10-15 बार शौचालयों को फ्लश करना पड़ रहा है. नल से इतना कम पानी आ रहा है कि आप अपने हाथ भी ढंग से धो नहीं पाते.’ राष्ट्रपति ने कहा कि उन्होंने संघीय पर्यावरण प्राधिकरण(ईपीए)को पानी के उपयोग पर नियमों को आसान बनाने का निर्देश दिया था. उन्होंने रेगिस्तानी क्षेत्रों में जल संरक्षण की अपील की.

Video : कोर्ट में वकीलों ने ही दे डाली बलात्कारी को सजा

आपको बता दें की इससे पहले अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की स्पीकर नैंसी पेलोसी (Speaker of the US House of Representatives Nancy Pelosi) ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग चलाने को हरी झंडी दे दी है। नैंसी पेलोसी ने गुरुवार को घोषणा की कि प्रतिनिधि सभा डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के लिए मसौदा तैयार करे। नैंसी ने कहा, ‘राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अमेरिकी लोकतंत्र के लिए खतरा हैं और उनके खिलाफ महाभियोग चलाने के अलावा कोई विकल्प नहीं है।’

उन्नाव की बेटी का हाल देख मां ने छह साल की बच्ची को किया आग के हवाले

-Mradul tripathi

Share.