पीएम मोदी ईरान के राष्ट्रपति रूहानी से मिले

0

न्यूयार्क: पीएम मोदी और रूहानी की मुलाकात:-
इन दिनों अमेरिका और ईरान के मध्य तनावपूर्ण रिश्ते चल रहे है। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(prime minister narendra modi ) ने संयुक्त राष्ट्र महसभा से इतर ईरानी राष्ट्रपति हसन रोहानी (Hassan Ruhani) से मुलाकात की और दोनों नेताओं ने आपसी और क्षेत्रीय हितों से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की इस मुलाकात का इन्तजार काफी समय से किया जा रहा था । इस मुलाक़ात से ये भी उम्मीद जताई जा रही है की अमेरिका और ईरान के मध्य रिश्ते सुधारने में पीएम मोदी की अहम् भूमिका रहेगी। इस मुलाकात से भारत की तरफ से अमेरिका समेत अन्य देशों को साफ संदेश भी दे दिया गया है कि भारत किसी भी दवाब में अपनी स्वतंत्र विदेश नीति से किसी भी देश से दबाव में नहीं आएगा। प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट कर दोनों नेताओं की मुलाकात की जानकारी दी

अमेरिका का प्रतिबन्ध:-
अमेरिका की ओर से लगाए गए प्रतिबंध के बाद से अमेरिका और ईरान के बीच तनाव इतना ज्यादा है कि रूहानी पहले ही साफ कर चुके थे कि न्यूयार्क में उनकी न तो ट्रंप से मुलाकात होगी और न ही दोनों देशों के प्रतिनिधियों के बीच किसी प्रकार की चर्चा।अमेरिका ने परमाणु कार्यक्रम को लेकर ईरान के खिलाफ पाबंदियां लगा रखी है। अमेरिकी प्रतिबंधों के चलते भारत ने भी ईरान से पेट्रोलियम उत्पादों का आयात बंद कर दिया है। ईरान भारत का तीसरा सबसे बड़ा तेल सप्लायर था।

पीएम मोदी तेहरान दौरा:-
मई 2016 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ईरान और पश्चिम एशिया के साथ भारत के संबंधों को विस्तार देने के लिए तेहरान का दौरा किया था. यात्रा के दौरान भारत और ईरान ने करीब एक दर्जन समझौतों पर हस्ताक्षर किए थे. उनमें रणनीतिक चाबहार बंदरगाह के विकास से जुड़ा समझौता मुख्य था। जानकारी के अनुसार भारत दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा तेल उपभोक्ता है और वह अपनी तेल जरूरतों का करीब 80 प्रतिशत आयात से पूरा करता है.

-Mradul tripathi

Share.