website counter widget

वैश्विक दबाव और आर्थिक बदहाली के कारण बौखलाया पाक

0

कहते हैं कि जब कुत्ता भूखा होता है तो वह बौखला जाता है और खूंखार हो जाता है . कुछ ऐसी ही हालत इस वक्त हमारे पडोसी मुल्क पाकिस्तान (Pakistan ) की भी है . चारों ऒर से दुत्कार का सामना करने के बाद और आर्थिक हालत (economic crisis ) खराब होने के बाद अब पाकिस्तान बौखला गया है . भूख के कारण इंसान भी जानवर बन जाता है, ऐसा ही कुछ हाल पाकिस्तानियों का हो रहा है. पहले भारत (india) ने पाकिस्तान के साथ व्यापारिक संबंधों पर रोक लगाईं, जिसके बाद वहां की आर्थिक हालत खराब हो गई थी . वहीँ विश्व बैंक ने भी पाक को मदद करने से इंकार कर दिया . सबसे बड़ा धक्का तो उसे तब लगा जब पाकिस्तान का सबसे अच्छा मित्र कहलाए जाने वाले देश चीन ने ही मसूद अजहर (पाकिस्तान के लिए सबसे महत्वपूर्ण माना जाने वाला इंसान ) को वैश्विक आतंकी बनाने पर मोहर लगा दी . इन सब रोक और आर्थिक तंगी के कारण पाकिस्तान खूंखार हो गया है . वह सभी के लिए भारत को जिम्मेदार मान रहा है, क्योंकि ये सारी कार्रवाई भारत में हुए पुलवामा हमले के बाद की गई है .

ज्योतिरादित्य सिंधिया बनाए जाएंगे कांग्रेस के महाराजा

भारत पर हमला करेगा पाकिस्तान

पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद से ही भारत ने पाकिस्तान के साथ सारे रिश्ते तोड़ दिए थे . भारत ने पाकिस्तान से आयातित सभी सामान पर कस्टम ड्यूटी को बढ़ाकर 200 प्रतिशत कर दिया . भारत सरकार के इस फैसले से पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था पर तगड़ा असर पड़ा .कस्टम ड्यूटी बढ़ने के बाद पाकिस्तान के लिए भारत को ताजे फल, सीमेंट, पेट्रोलियम पदार्थ, तैयार चमड़ा और अन्य सामान का निर्यात करना काफी महंगा पड़ने लगा . वर्ष 2017-18 में पाकिस्तान से भारत को 3,482.3 करोड़ रुपये यानी 48.85 करोड़ डॉलर का निर्यात किया गया था .

जिला निर्वाचन अधिकारी लोकेश जाटव ने ली पहली बैठक

चीन ने भी दिया पाकिस्तान को धोखा

पुलवामा हमले के गुनहगार आतंकी मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने के भारत के प्रयासों पर सहयोग करने के लिए चीन भी राजी हो गया . चायना ने ऐसा विश्व स्तर से आ रहे दबाव के बाद किया . फ़्रांस, अमरीका और ब्रिटेन जैसे देश पहले ही मसूद को अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित किये जाने के पक्ष ने थे, लेकिन चायना की ऒर से कई बार इस प्रस्ताव को ठुकरा दिया गया था . भारत और अन्य देशों द्वारा बार-बार दबाव बनाने के बाद आखिर चीन को भी मसूद को अंतरराष्ट्रीय आतंकी मानना पड़ा, जो पाकिस्तान के लिए किसी बड़े झटके से कम न था . भारत के कारण पाकिस्तान को हुए नुकसान के कारण अब वह अपनी खीज निकालना चाहता है , इसीलिए अब कहा जा रहा है कि पाकिस्तान भारत पर हमले कि तैयारी कर रहा है .

इमरान खान सोशल मीडिया पर जबरदस्त ट्रोल हुए

भारत ठुकरा रहा बातचीत

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान बार-बार भारत के सामने बातचीत की पेशकश कर रहे हैं, लेकिन पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा उनकी मांग ठुकराई जा रही है. आठ जून को एक खत लिखकर दोनों देशों के बीच बातचीत का आग्रह भी किया था. उसका जवाब देते हुए पीएम मोदी ने उनको चिट्ठी लिखी है. इसमें पीएम मोदी ने कहा है कि दोनों देशों के बीच संबंध तभी सुधर सकते हैं जब पाकिस्तान आतंकवाद पर ठोस कार्रवाई करके दिखाए.

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.