चुनावी रैली में आत्मघाती हमला, 10 से अधिक मौतें

0

इन दिनों चुनावी माहौल चल रहा है| सभी पार्टी के नेता एक-दूसरे पर तंज कस रहे हैं| आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है| इसी बीच कुछ हमलावरों ने एक चुनावी रैली को निशाना बनाते हुए आत्मघाती हमले को अंजाम दिया| इस आत्मघाती हमले के कारण अभी तक 14 लोगों की मौत हो चुकी हैं, वहीं 50 से ज्यादा लोग घायल है| सभी घायलों को पास के ही अस्पताल में भर्ती करवाया गया है|

मामला पाकिस्तान के पेशावर का है| यहां मंगलवार देर रात ‘अवामी नेशनल पार्टी’ (एएनपी) की चुनावी रैली चल रही थी, तभी अचानक स्टेज पर हमलावर ने खुद को उड़ा लिया| बम निरोधक दस्ते के प्रमुख शौकत मालिक ने बताया कि विस्फोट के लिए लगभग 8 किलो डायनामाइट का इस्तेमाल किया गया था| सुरक्षा एजेंसियां इस मामले की जांच में जुटी हुई है|

शहर के प्रमुख काजी ने बताया कि इस घटना में अवामी नेशनल पार्टी (एएनपी) के नेता हारून बिलौर भी शामिल हैं| नेता पेशावर शहर की पीके-78 सीट से उम्मीदवार थे| वे यहां दूसरे नेताओं से मिलने के लिए पहुंचे थे| जैसे ही हारून बिलौर  स्टेज पर पहुंचे, वैसे ही हमलावर ने खुद को उड़ा लिया| गौरतलब है कि पाकिस्तान में 25 जुलाई को आम चुनाव होने वाले हैं| चुनाव से पहले यह दूसरा बड़ा आतंकी हमला है| इसके पहले हुए हमले में 7 लोग घायल हो गए थे|

वहीं चुनाव आयोग ने इस हमले की निंदा की है और कहा, “यह हमारे सुरक्षा संस्थानों की कमजोरी दिखाता है। साथ ही यह पारदर्शी चुनावी प्रक्रिया के खिलाफ एक साजिश है|” इसके पहले सोमवार को नेशनल काउंटर टेररिज्म अथॉरिटी (नाक्टा) ने सीनेट कमेटी से कहा था कि देश के कुछ बड़े नेताओं को जान से मारने की धमकियां मिल रही है| इसमें पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के मुखिया इमरान खान, मुंबई ब्लास्ट के मास्टरमाइंड हाफिज सईद का बेटा और एएनपी के नेता वली खान के शामिल होने की आशंका जताई जा रही है|

Share.