एवरेस्ट से कचरा लाने पर मिलेंगे ढाई लाख रुपए

0

विश्व की सर्वोच्च चोटी माउंट एवरेस्ट पर जाने वाले पर्वतारोहियों की संख्या में निरंतर वृद्धि हो रही है, जिनमें धनी व्यक्तियों की संख्या भी बढ़ रही है| इसके साथ ही वहां कचरा भी निरंतर बढ़ता जा रहा है| पर्वतारोही अपने टेंट, बेकार हो चुके उपकरण, खाली गैस सिलेंडर और यहां तक कि मानवीय अपशिष्ट भी छोड़ आते हैं| इससे माउंट एवरेस्ट कूड़े के ढेर में परिवर्तित हो रहा है| इससे निजात पाने के लिए एक नई योजना प्रारंभ की गई है, जिसके तहत एवरेस्ट से कम से कम 8 किग्रा कचरा लाने पर ढाई लाख रुपए मिलेंगे|

दरअसल, अब नेपाल की सागरमाथा प्रदूषण नियंत्रण समिति ने यह नियम बनाया है कि सभी एवरेस्ट पर्वतारोहियों को 2.5 लाख रुपए जमा कराने होंगे और जो पर्वतारोही एवरेस्ट से उतरते समय अपने साथ कम से कम 8 किलोग्राम कचरा लाएगा, उसे यह रकम वापस कर दी जाएगी| इस योजना के बाद पर्वतारोही एवरेस्ट का कचरा साफ़ करने में रुचि दिखाएंगे|

सागरमाथा प्रदूषण नियंत्रण समिति के अनुसार, साल 2017 में नेपाल के पर्वतारोही करीब 25 टन कचरा और 15 टन मानव अपशिष्ट नीचे लेकर आए| इस मौसम में इससे भी ज्यादा कचरा नीचे लाया गया, लेकिन यह हर साल वहां जमा होने वाले कचरे के मुकाबले बहुत कम है|

Share.