website counter widget

मोदी को गले लगाया और भारतीयों को वापस भेजा

0

नई दिल्ली: आजकल भारत और अमेरिका की दोस्ती दिन प्रतिदिन गहराती जा रही है। अमेरिका अधिकतर मुद्दों पर भारत का समर्थन करते हुए नजर आता है आजकल अभी हाल ही में हाउदी मोदी कार्यक्रम जरिये अमेरिका ने भारतीयों और भारत के प्रति अपने प्यार को जाहिर किया था लेकिन अब अमेरिका ने बहुत संख्या में भारतीयों को वापस भेज दिया है। जानकारी के अनुसार लगभग 325 यात्रियों को मैक्सिको सरकार ने वापस स्वदेश भेज दिया ऐसा कहा जा रहा है की अमेरिका में अवैध रूप से प्रवेश पाने की कोशिश कर रहे थे ये लोग इसलिए इन्हे वापस स्वदेश भेजा गया है।

Magnificent MP 2019 : इंदौर में उद्योगपतियों का लगा मेला, जानिए किसने क्या कहा

जानकारी के अनुसार मैक्सिको के अधिकारियों ने कहा कि जिन प्रवासियों को वापस भेजा गया है, वे सभी 60 फेडरल माइग्रेशन एजेंटों के जरिए यहां पहुंचे थे। उन्होंने कहा हमारी जांच में पता चला कि इनके पास पर्याप्त दस्तावेज नहीं थे जो नियमित तौर पर रहने के लिए आवश्यक होते है। ये सभी लोग पिछले कई महीनों से यहां रह रहे थे। शुक्रवार की सुबह बोइंग 747-400 चार्टर विमान इन यात्रियों को लेकर दिल्ली के आईजीआई एयरपोर्ट पहुंचा। इस फ्लाइट में सवार गौरव कुमार नाम के एक शख्स ने बताया कि हमारे एजेंट ने हमें जंगलों में भेजा। हम लगभग दो सप्ताह तक जंगलों में घूमे फिर हमें मैक्सिको से भगा दिया गया।

Reliance Industries ने बड़ा कीर्तिमान रचा

गौरव कुमार ने आगे बताया की केवल भारतीयों को निर्वासित किया गया जबकि श्रीलंका, नेपाल और कैमरून के लोग अभी भी वहां मौजूद हैं। मैंने कृषि भूमि और जेवरात बेचकर एजेंट को 18 लाख रुपये का भुगतान किया था। वापस भेजे गए भारतियों के अमेरिका में प्रवेश पाने की कोशिश में लाखो रुपये डूब गए है।

सावरकर पर मनमोहन सिंह ने भाजपा के सुर में सुर मिलाया

-Mradul tripathi

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.