Article 370 पर बदले चीन के विचार, दिया बड़ा बयान

0

अक्सर हर मुद्दे पर पाकिस्तान  (Pakistan) का साथ देने वाले चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (Chinese President Xi Jinping) भारत (India) आने वाले हैं। जब कई देश पाकिस्तान के खिलाफ खड़े होते हैं तब केवल चीन ही उसका साथ देता है, लेकिन अब ऐसा कहा जा रहा है कि चीन ने भी पाकिस्तान का साथ छोड़ दिया। शी जिनपिंग के भारत दौरे से पहले चीन की ओर से जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) पर बड़ा यू-टर्न लिया गया है। जो चीन पहले भारत के खिलाफ था वह अब आर्टिकल 370 (Article 370) के मुद्दे पर चीन ने कहा है कि इस मसले को संयुक्त राष्ट्र चार्टर (UN Charter) के हिसाब से सुलझाना चाहिए। वहीं कुछ दिन पहले चीन भारत के  फैसले के समर्थन में आ गया था।

भिखारी पाकिस्तान ने चीनी कम्पनियों को दी टैक्स में छूट

चीन में इमरान खान

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान (Pakistan Prime Minister Imran) अभी चीन के दौरे पर हैं। वहाँ उन्होने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाकात की और चीनी प्रीमियर से भी मिले। इसके बाद ही चीन के विदेश मंत्रालय की ओर से जम्मू-कश्मीर मामले पर यह बयान जारी किया गया। अपने बयान में चीन ने कहा कि जम्मू-कश्मीर का मसला पुराने इतिहास का एक विवाद है, जिसे शांतिपूर्ण तरीके से संयुक्त राष्ट्र चार्टर, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) के नियमों के हिसाब से सुलझाना चाहिए। वे इस मसले पर नज़र बनाए हुए है और उम्मीद करता है कि दोनों देश आपस में बात कर इसपर आगे बढ़ेंगे।

क्या राहुल गांधी जाएँगे जेल, कोर्ट में कहा…

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार  ने इस बयान पर भारत की ओर से कहा कि हमने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के बीच बैठक के संबंध में रिपोर्ट देखी है, जिसमें उन्होंने अपनी बातचीत के दौरान कश्मीर का भी उल्लेख किया है। भारत का पक्ष पुराना ही है और ये स्पष्ट है कि जम्मू एवं कश्मीर भारत का आंतरिक मसला है।

पूर्व डिप्टी CM के 30 ठिकानों पर इनकम टैक्स का छापा

    – Ranjita Pathare

Share.