इमरान के चैनल पर इज़राइल का तंज

0

इस्लामाबाद: जम्मू कश्मीर(Jammu Kashmir)  मामले में दुनियाभर में मुहकी खाने के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने तुर्की और मलेशिया के साथ मिलकर एक अंग्रेजी इस्लामिक चैनल खोलने का प्लान बना रहे है। जिसके द्वारा दुनिया भर में इस्लाम(Islam) के खिलाफ फैली गलतफहमियों को दूर किया जा सके। लेकिन इमरान खान के इस प्लान पर इजरायल ने तंज कसा है। साथ ही इजरायल की मीडिया ने तीनों देशों के कानूनों, विरोधियों पर ऐक्शन और अल्पसंख्यकों पर अत्याचार का जिक्र करते हुए आईना दिखाने की कोशिश की है। यरुशलम पोस्ट में चैनल को लेकर तुर्की, मलयेशिया और पाक पर करारा हमला किया गया।

NRC पर अमित शाह ने दिया बड़ा बयान

जानकारी के अनुसार यरूशलम पोस्ट ने इमरान खान के इस्लामिक चैनल प्लान पर लिखा, ‘एक ऐसे देश के नेता जिनके यहां ईशानिंदा के लिए सजा-ए-मौत दी जाती है, एक नेता जो गर्व से खुद को यहूदी-विरोधी बताया है और एक नेता जो पड़ोसी देशों को धमकाता है, आज वे एक अंग्रेजी चैनल खोलने की बात कर रहे हैं जो इस्लामोफोबिया के खिलाफ लड़ेंगे’.यरुशलम पोस्ट के अनुसार मलेशिया के प्रधानमंत्री मोहम्मद महातिर खुलकर खुद को यहूदी-विरोधी मानते है। जबकि तुर्की में एर्दोगन ने अपने विरोधियों को ही समाप्त कर दिया है और सीरिया में अपनी सैन्य ताकत बढ़ाई है. पाकिस्तान में ईशानिंदा कानून का प्रयोग कर अल्पसंख्यकों को निशाना बनाया जाता है। और ये दुनियार को इस्लाम का पाठ पढ़ाने जा रहे है।

मना करने वाली महिलाओं के कपड़े फाड़ देता था चिन्मयानंद

इमरान खान ने चैनल शुरू करने के बारे में ट्वीट किया, ‘अपनी बैठक में हमने बीबीसी की तरह का अंग्रेजी टीवी चैनल स्थापित करने का फैसला किया है। चैनल मुसलमानों के मुद्दों को उठाने के साथ इस्लामोबोफिया से भी लड़ेगा।’

अमेरिका को 30 मिनट में तबाह कर सकती है यह मिसाइल: चीन नेशनल डे परेड

-Mradul tripathi

Share.