ईरान ने की सऊदी अरब पर हमले की तैयारी

0

अमेरिका और ईरान (War between America and Iran ) के बीच बढ़ रही तनातनी के बाद अब माहौल और बढ़ गया है। इसी बीच यह कहा जा रहा है कि ईरान ने सऊदी अरब पर हमले (Iran attacks on Saudi Arabia ) की तैयारी कर ली है। जल्द ही दोनों देशों के बीच भीषण युद्ध होने वाला है। सऊदी अरब के दो तेल संयंत्र पर सितंबर में ड्रोन्स और मिसाइलों के जरिए हमला हुआ था,  जिसके बारे में हाल ही में बड़ा खुलासा हुआ है। कहा जा रहा है कि ये हमला इरान ने करवाया था और अब ईरान इससे भी बड़ा हमला कर सकता है।

26/11 मुंबई हमले को 11 साल: दहल रही थी मायानगरी, लेकिन फिर भी ये जवान डटें रहे

जानकारी के अनुसार , एक रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है कि सऊदी पर हमले की साजिश ईरान में ही तैयार हुई थी। अरामको पर हमले से 4 महीने पहले ईरान के सैन्य अधिकारियों ने हमले की साजिश रचने के लिए उच्चस्तरीय बैठक बुलाई थी। जिसके बाद हमला हुआ था और अभी भी ऐसी ही साजिश रची जा रही है। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स का कहना है कि ईरानी अधिकारी परमाणु संधि से बाहर होने और तेहरान पर प्रतिबंध लागू करने के लिए अमेरिका को सबक सिखाना चाहते थे। ईरान के रिवॉल्यूशनरी गार्ड के प्रमुख मेजर जनरल हौसियन सलामी का कहना है कि अब अमेरिका से बदला लिया जाए। वक्त आ गया है कि हम अपनी तलवारें निकाल लें और उन्हें सबक सिखाया जाए।

इंदौर के सिंघम ट्रैफिक पुलिस रंजीत द्वारा ऑटो चालाक की पिटाई और गाली देते हुए, Video viral

अमेरिका पर हमला

अमेरिका को सबक सिखाने के उद्देश्य से ईरान हमले की साजिश रच रहा है। समाचार एजेंसी रॉयटर्स का कहना है कि तेल संयंत्र पर हुए हमले में ईरान के कई नेताओं का भी हाथ था। इनके मुताबिक ईरान के सुप्रीम लीडर आयतुल्ला अली ख़ामेनई ने इस हमले की इजाजत दी थी। इसके बाद उन्होंने कहा था कि हमले में किसी अमेरिकी या आम नागरिक की मौत नहीं होनी चाहिए। अमेरिका के खिलाफ ईरान की नाराज़गी दो चीज़ों को लेकर है पहला न्यूक्लियर ट्रीटी खत्म करना और दूसरा भारी-भरकम पाबंदी लगाना।

सुप्रिया सुले के कारण बागी हुए अजित पवार!

    – Ranjita Pathare 

 

Share.