website counter widget

पाकिस्तान में फैल रही भुखमरी, अब आई भारत की याद

0

युद्ध की धमकी दे रहे हमारे पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के हाल बेहाल हो चुके हैं। भारत को परमाणु युद्ध की ललकार लगाने और भारत द्वारा हटाए गए आर्टिकल 370 (Article 370) का विरोध करने वाले पाकिस्तान (Imran Khan Government Completes First Year) की हालत बद से बदतर होती जा रही है। वहाँ महंगाई लगातार आसमान छू रही है। खाने-पीने के सामान से लेकर हर वस्तु तीन से चार गुना कीमत में बिक रही है।

पत्रकारों के सामने पागल हुए इमरान खान, दे दी गालियां VIDEO VIRAL

इमरान सरकार को एक साल पूरा (Imran Khan Government Completes First Year)

इमरान खान की सरकार को एक साल पूरा होने के बाद देश के हालात बिगड़ गए हैं। पाकिस्तान सरकार की नाकामयाबियों की वजह से निवेशकों का भरोसा भी कम होते जा रहा है। महंगाई सर चढ़कर तांडव कर रही है। जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 को हटाने वाले फैसले के बाद इमरान सरकार ने कई ऐसे फैसले ले लिए जिससे अब उसका ही नुकसान होते जा रहा है। बौखलाहट में आकर भारत के साथ संबंध तोड़ना पाकिस्‍तान के लिए खुदकुशी करने जैसा साबित हो रहा है।

पाकिस्तान के नागरिक अब अपने पीएम और उस पल को कोस रहे हैं जब पाकिस्तान ने भारत के साथ व्यापारिक रिश्ते तोड़े थे। दर-दर भटक रहे कंगाल पकिस्तान को अब भारत से आयातित सामानों की याद आ रही है। वह अब भारत से दया की भीख मांग रहा है। अब भारतीय वस्तुओं को बाजार में बिकने की छूट देने की भी अपील कर रहा है।

Burari Death Case : एक साल बाद बुराड़ीकांड की यह सच्चाई आई सामने

पाकिस्तान (Imran Khan Government Completes First Year) में सब्जियाँ तो दूर एक लीटर दूध की कीमत के बारे मे सुनकर भी होश उड़ जाएँगे। एक लीटर दूध के लिए लोगों को 100 रु से 120 रुपये देने पड़ रहे हैं। एक किलो टमाटर 300 रुपए किलों से ज्यादा महंगा हो गया है। दाल, चीनी, गैस सभी के दाम लगातार बढ़ते जा रहे हैं।

जब इमरान सरकार सत्ता में आई तब पेट्रोल और डीजल क्रमश: जहां 95.24 रुपये और 112.94 रुपये प्रति लीटर था, वहीं अब यह 117.83 रुपये और 132.47 रुपये प्रति लीटर हो गया है। पाकिस्तान के एक अखबार ने लिखा है कि भारत के साथ व्यापार को निलंबित करने के फैसले का समर्थन करते हुए नियोक्ता फेडरेशन ऑफ पाकिस्तान (ईएफपी) ने सरकार से अपील की है कि भारतीय सामान जो पहले से ही हवाई अड्डों या बंदरगाहों तक पहुंच चुके हैं, उन्हें स्थानीय बाजारों में अनुमति दी जानी चाहिए।

ज्योतिरादित्य का बायकोट, बाला बच्चन बनेंगे मध्यप्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष!

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.