website counter widget

image1

image2

image3

image4

image5

image6

image7

image8

image9

image10

image11

image12

image13

image14

image15

image16

image17

image18

फ़्रांस ने की मसूद पर बड़ी कार्रवाई

0

जैश-ए-मोहम्मद का सरगना मसूद अज़हर पिछले काफी दिनों से ख़बरों में बना हुआ है| पहले जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा के अवंतिपोरा में जैश-ए-मोहम्मद द्वारा विस्‍फोटकों से भरी गाड़ी को सीआरपीएफ की बस से भिड़ा दिए जाने को लेकर तो अब संयुक्त राष्ट्र संघ की बैठक में वैश्विक आतंकी घोषित करने के मामले पर चीन द्वारा वीटो पॉवर दिए जाने को लेकर मसूद अज़हर ख़बरों में है|

जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अज़हर को लेकर अब फ्रांस की सरकार ने एक बड़ा निर्णय लिया है। मसूद अज़हर की फ्रांस में मौजूद सारी जायदाद और प्रॉपर्टी को सरकार ने सीज़ करने का निर्णय लिया है| फ़्रांस की सरकार अपने देश में मौजूद सभी सामग्रियों को भी जब्त करेगी|

Image result for फ्रांस प्रेसिडेंट

इस संबंध में फ्रांस का कहना है कि वह यूरोपियन यूनियन की संदिग्ध आतंकवादियों वाली सूची में अज़हर के नाम को शामिल करने को लेकर बात करेगा।

गौरतलब है कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की 1267 अलकायदा प्रतिबंध समिति के तहत फ्रांस, ब्रिटेन और अमरीका द्वारा 27 फरवरी को अजहर का आतंकवादियों वाली सूची में नाम शामिल करने का प्रस्ताव पेश किया गया था। यह प्रस्ताव भारत के जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को जैश के आत्मघाती हमलावर द्वारा सीएरपीएफ के एक काफिले पर आतंकी हमला किए जाने के बाद रखा गया था| गौरतलब है कि इस हमले में में 40 जवान शहीद हो गए थे।

Image result for पुलवामा

भारत और पाकिस्तान के रिश्तों में इस घटना के बाद से ही काफी तल्ख़ माहौल हो गया था। सभी पाकिस्तान की इस कायराना हरकत से आक्रोशित थे | अलकायदा प्रतिबंध समिति के सदस्यों को इस प्रस्ताव को लेकर आपत्ति दर्ज करने के लिए 10 दिनों का समय दिया गया था। इसकी समय सीमा खत्म होने से पहले चीन ने इस प्रस्ताव को स्थगित कर दिया| चीन का कहना था कि उसे इसकी जांच के लिए और समय चाहिए।

गौरतलब है कि पठानकोट के एयरबेस पर जनवरी 2016 में जैश के आतंकियों ने जो हमला किया था, उसमें हमारे देश के सात जवान शहीद हो गए थे। सितंबर 2016 को हुए उरी हमले को इसी संगठन ने अंजाम दिया था। इस हमले में भी 17 जवान शहीद हो गए थे और अन्य 30 घायल हुए थे। यही नहीं पुलवामा के अलावा अजहर का आतंकी संगठन जैश पिछले दो दशकों में कई आतंकवादी हमलों में संलिप्त रहा है। इससे भारत हमेशा आहत हुआ है और भारत को उसे सज़ा देने का अधिकार है|

अंकुर उपाध्याय

 

Who Is Brenton Tarrant : जानिए कौन है मस्ज़िद का हत्यारा

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.