Coronavirus को लेकर चीन छुपा रहा इतना बड़ा सच, जानकार चौंक जाएंगे

0

Coronavirus से आज पूरी दुनिया आतंकित है। चीनी सरकार (China Government) ने अपने देश में इस वायरस (Big Truth About Coronavirus) से होने वाली मौतों का आंकड़ा 636 बताया है और संक्रमित लोगों का 31 हजार से ज्यादा। लेकिन क्या ये आंकड़े जो चीनी सरकार द्वारा बताए गए हैं वे वाकई सच हैं या चीन इस घातक वायरस को लेकर अभी भी दुनिया से कुछ छिपा रहा है। सबसे पहले दुनियाभर की सरकारों के दिमाग में एक बात जरूर खटक रही होगी कि आखिर चीनी सरकार जो अपने देश की इस तरह की किसी भी घटना को इतनी जल्दी उजागर नहीं करती उसने आखिर इस वायरस के बारे में शुरुआती दौर में कैसे जानकारी दे दी? आपको बता दें कि coronavirus को लेकर चीनी सरकार (China Government) दुनिया से ये बात छिपानी चाहती थी लेकिन एक 34 वर्षीय चीनी डॉ. ‘ली वेनलियान्ग’ ने एक वीडियो पोस्ट कर सबसे पहले इस घातक वायरस के विषय में जानकारी दी। उन्होंने यह वीडियो (viral video) अस्पताल से ही पोस्ट किया था। चीनी सरकार इस वायरस (Big Truth About Coronavirus) के संबंध में दुनिया से जानकारी छिपाना (China is hiding information about Coronavirus) चाहती थी इस बात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि जब डॉ. ली ने इस वायरस के संबंध में वीडियो पोस्ट किया तो वुहान पुलिस ने सोशल मीडिया पर झूठी अफवाह फैलाने का आरोपी बना डाला।

Coronavirus से डरे भगवान, मंदिर किया बंद

यह बात जानकार आप सभी को हैरानी होगी कि डॉ. ली भी इस वायरस (Big Truth About Coronavirus) की चपेट में आ गए थे और उन्हें 12 जनवरी को अस्पताल में दाखिल किया गया था। दरअसल डॉ. ली जब अस्पताल में एक मरीज का इलाज कर रहे थे तभी वे इस वायरस की चपेट में आ गए थे। डॉ. ली ने चैट के माध्यम से अपने साथी डॉक्टर्स को भी इस खतरनाक वायरस के संबंध में आगाह किया था, मगर अफ़सोस डॉ. ली (Dr. Lee China) खुद इस वायरस (Big Truth About Coronavirus) से नहीं बच सके और उनका निधन हो गया। दुनिया को सबसे पहले इस बेहद खतरनाक वायरस के बारे में जानकारी देने वाले डॉ. ली की जान बुधवार को इसी वायरस ने ले ली। डॉ. ली तो इस दुनिया में नहीं रहे लेकिन उनकी चेतावनी की वजह से इस वायरस के संबंध में समय रहते जानकारी हासिल हो सकी और दुनिया भर के तमाम देशों में शोध शुरू हो गए। हालांकि अभी तक इस वायरस का तोड़ नहीं ढूढ़ा जा सका है, लेकिन भारत और थाईलैंड जैसे देश इस वायरस की दवा का दावा जरूर कर चुके हैं। इन दोनों देशों का दावा कितना सही है यह तो अभी तक पता नहीं चला है लेकिन यदि यह सच है तो दुनिया के लिए यह बेहद बड़ी खुशखबरी होगी।

Coronavirus का खौफ, Air India ने रद्द की उड़ानें

इसके अलावा एक और जानकारी मिली है जिसने चीनी सरकार (China Government) की पोल खोल कर रख दी है। चीनी सरकार (China Government) इस वायरस से हुई मौतों के आंकड़ों को छिपाने की भी कोशिश कर रही है ऐसा दावा चीन की एक कंपनी द्वारा किया गया है। दरअसल चीन की दूसरी सबसे बड़ी टेक कंपनी टेन्सेंट ने दावा किया है कि चीनी सरकार (China Government) द्वारा जो मौत के और इस वायरस से संक्रमित लोगों के आंकड़े जारी किए हैं वे गलत हैं। एक चीनी न्यूज रिपोर्ट के अनुसार इस कंपनी ने जो आंकड़े जारी किए हैं वे काफी चौंकाने वाले हैं। इन आंकड़ों में इस घातक वायरस (Big Truth About Coronavirus) से मरने वालों की संख्या 24,589 बताई गई है और इससे संक्रमित लोगों का आंकड़ा 1,54,023 बताया गया है। कंपनी द्वारा बीते शनिवार को यह आंकड़े जारी किए गए थे और जिस तरह से इस वायरस (Big Truth About Coronavirus) से यह आंकड़े तेजी से बढ़ रहे हैं ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि जारी किए गए यह आंकड़े अब कहां पहुंच चुके होंगे। हालांकि ऐसा कहा जा रहा है कि चीनी सरकार (China Government)  इन आंकड़ों को सबसे छुपाना चाहती थी लेकिन कंपनी ने गलती से इसे सार्वजनिक कर दिया।

चीन के Coronavirus का इलाज India के पास

Prabhat Jain

Share.