website counter widget

कप्तान को बल्लेबाजी क्रम में बदलाव करना ज़रूरी

0

पाकिस्तान में अर्थव्यवस्था की बिगड़ी हालत पर लगातार बढ़ती आलोचनाओं के बीच गुरुवार को प्रधानमंत्री इमरान खान ने वित्त मंत्री असद उमर को उनके पद से हटा दिया था । इस पर विपक्षी दल ने मंत्रिमंडल में फेरबदल को सरकार की असफलता का सबूत बताया था। विपक्षियों ने आरोप लगाया था कि सरकार देश में बढ़ती कीमतों पर लगाम नहीं लगा पा रही है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को विपक्षियों के आरोप का जवाब देते हुए मंत्रिमंडल में फेरबदल के निर्णय का बचाव किया| उन्होंने इस फेरबदल को क्रिकेट से जोड़कर अपने फैसले को सही ठहराया है| 

उन्होंने फेरबदल के निर्णय का बचाव करते हुए कहा कि मैच जीतने के लिए कप्तान को कई बार बल्लेबाजी क्रम में बदलाव करना पड़ता है। खान ने कहा कि उन्होंने बल्लेबाजी क्रम में बदलाव किया है और कुछ नए खिलाड़ियों को भी शामिल किया है। सरकार बनने के महज आठ महीने के भीतर मंत्रिमंडल में हुए पहले फेरबदल के तहत वित्त मंत्री और खान के भरोसेमंद असद उमर इस्तीफा दे चुके हैं जबकि कई मंत्रियों के मंत्रालय बदले गए हैं।

उन्होंने कहा, ‘मैच जीतने के लिए, एक कप्तान को कई बार बल्लेबाजी के क्रम में बदलाव करना होता है तथा नए खिलाड़ियों को मौका देना होता है। मैंने भी यही किया है और आगे भी ऐसा करूंगा क्योंकि मेरा उद्देश्य मैच जीतना है।“ विपक्षी पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज की प्रवक्ता मरियम औरंगजेब ने कहा कि बल्लेबाजी का क्रम बदलने से कुछ नहीं होने वाला है। उन्होंने कप्तान को बदलने की मांग की।  उन्होंने कहा, “समय आ गया है कि खिलाड़ियों को बदलने के बजाय कप्तान को बदल दिया जाए।“

एक ट्वीट में उमर ने कहा कि यह कवायद मंत्रिमंडल में फेरबदल का हिस्सा है और प्रधानमंत्री इमरान खान ने उन्हें ऊर्जा मंत्रालय की जिम्मेदारी संभालने को कहा है । उमर आईएमएफ से राहत पैकेज दिलाने के लिए चल रही बातचीत में पाकिस्तान की अगुवाई कर रहे थे।  एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने बताया कि उमर ने मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया है।

उमर ने कहा, “ इसका यह मतलब नहीं है कि मैं पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के नए पाकिस्तान के विजन को आगे ले जाने के लिए उपलब्ध नहीं हूं। मैं देश को आगे ले जाने के लिए उपलब्ध हूं और आगे भी रहूंगा।“ उन्होंने कहा, “मुझे नहीं मालूम कि मुझे हटाए जाने के पीछे कोई साजिश है या नहीं, लेकिन मैं इतना जानता हूं कि हमारे कप्तान (इमरान खान) मुझे ऊर्जा मंत्रालय संभालते देखना चाहते थे। मुझे नहीं लगता कि यह अच्छा था, सो मैंने मना कर दिया।’’

उमर ने कहा, “हमने पहले से अपेक्षाकृत बेहतर शर्तों पर आईएमएफ से करार किया। यह मुश्किल निर्णय लेने का समय है। मैंने मुश्किल निर्णय लिये, मैंने वैसे निर्णय लेने से इनकार कर दिया, जो देश को बर्बाद कर देते।“

अपने प्रदर्शन का बचाव करते हुए एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, “कौन कहता है कि मैं उन चीजों को पाने में असफल रहा जो हम पाना चाहते थे?”

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
Loading...
Share.