website counter widget

भारतवंशी सिख जगमीत सिंह बने किंगमेकर: कनाडा चुनाव

0

ओटावा: कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो की लिबरल पार्टी ऑफ कनाडा ने चुनाव जीत लिया है, लेकिन पार्टी को अकेले दम पर बहुमत नहीं मिला। लिबरल पार्टी को 157 सीटों पर जीत मिली है, जो बहुमत के आंकड़े (170 सीटों) से 13 सीटें कम है। मुख्य विपक्षी नेता एंड्रयू स्कीर की कंजर्वेटिव पार्टी ने 121 सीटें जीतीं।  वही एनडीपी ने 24 सीटें (16%) जीतीं। एनडीपी के नेता जगमीत सिंह हैं। वह कनाडा की किसी संघीय पार्टी के नेता बनने वाले पहले गैर श्वेत हैं। इस चुनाव में वह किंगमेकर बनकर उभरे हैं (Canada Election 2019)। माना जा रहा है कि नई सरकार के गठन में उनकी पार्टी की भूमिका अहम हो सकती है। 40 वर्षीय जगमीत पेशे से वकील हैं। वह 2017 में एनडीपी के नेता चुने गए थे। उनके माता-पिता पंजाब से आकर कनाडा में बस गए थे।

Pok में आजादी की मांग कर रहे प्रदर्शनकारी, आपातकाल लागू

वहीं, अलगावादी पार्टी ब्लॉक क्यूबेकोइस को 32 सीटें मिलीं। इससे पहले सोमवार को हुए चुनाव में करीब 65% मतदान हुआ था। चुनाव में 18 पंजाबी सांसद बने हैं, जिसमें 13 पंजाबी सांसद ट्रूडो की पार्टी से हैं। ट्रूडो ने दूसरी बार सत्ता हासिल की है। ट्रूडो ने कहा- ‘‘कनाडा की जनता ने प्रगतिशील एजेंडा चुना है (Canada Election 2019)।’’ 40 दिनों की चुनाव प्रचार मुहिम के कारण कनाडा सरकार में हुए घोटालों और लोगों की भारी उम्मीदों के चलते उन्हें काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने मंगलवार को उन्हें बधाई दी।

भारत ने लॉन्च की दुनिया की सबसे महँगी चॉकलेट

इन संघीय चुनाव को ट्रूडो के लिए जनमत संग्रह के रूप में देखा जा रहा था जिनका पहला कार्यकाल उतार-चढ़ाव भरा रहा. ट्रूडो ने मॉन्ट्रियल में अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए कहा, ”मतदाताओं ने विभाजन और नकारात्मकता को ख़ारिज कर दिया. लोगों ने प्रगतिशील एजेंडे और जलवायु परिवर्तन के पक्ष में मतदान किया है.” उन्होंने कहा, “हम पर विश्वास रखने के लिए और देश को सही दिशा में ले जाने के लिए मैं लोगों को धन्यवाद देता हूं.” साथ ही ट्रूडो ने उन्हें वोट नहीं करने वालों को भी संबोधित करते हुए विश्वास दिलाया कि उनकी सरकार हर दिन सभी के हित के लिए काम करेगी। इस बार ट्रूडो को मिली कम सीटों को उनके पिछले कार्यकाल से जोड़कर देखा जा रहा है, लेकिन यह नतीजे कंज़रवेटिव नेता एंड्रयू शीयर के लिए बेहद निराशाजनक है.

NCRB की चौंकाने वाली रिपोर्ट, इस मामले अव्वल आया MP

-Mradul tripathi

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.