इस देश में शराब के नशे में पेश किया जा सकता है बजट

0

बजट (Budget) हर किसी के लिए बेहद जरूरी है चाहे बात घर की हो या सरकार (Britain Parliament Budget) की। हर व्यक्ति अपने घर का बजट तैयार करता है ताकि उसे पता हो कि उसे एक माह में या फिर एक साल में किन-किन चीज़ों को कितना खर्च करना है। यह जरूरी है इसलिए ताकि अनावश्यक या फिर गैर जरूरी चीज़ों पर फ़िज़ूल खर्ची न हो। जिस तरह किसी घर का बजट (Budget) तैयार किया जाता है उसी तरह तैयार होता है देश का बजट। हर साल विभिन्न देशों की सरकारें अपने देश का बजट (Budget) बनाती हैं और अपनी आमदनी के हिसाब से तैयार करती हैं साल भर में होने वाले खर्चों का बजट। इसी बजट (Budget) से जानकारी मिलती है कि इस साल सरकार (Government) को किस योजना पर कितना खर्चा करना है। बीती 1 फ़रवरी को हमारे देश का बजट भी वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) द्वारा संसद में पेश किया गया। अब आप सभी के मन में यह सवाल तो होगा कि बजट तो बीती हुई बात हो गई, पुरानी बात हो गई और उसके बारे में सब कुछ तो पता चला गया फिर ये मुद्दा किस लिए? तो आपको बता दें कि हम आपको बजट (Britain Parliament Budget) के बारे में कुछ नहीं बता रहे बल्कि इसे पेश करने वाले एक देश के उस नियम के बारे में बताना चाहते हैं जिसे आप नहीं जानते लेकिन जानने के बाद चौंक जरूर जाएंगे। दरअसल दुनिया में एक ऐसा देश है जहां बजट पेश किए जाने से पहले यदि मंत्री चाहे तो शराब पी सकता है यानी संसद में शराब के नशे में बजट पेश कर सकता है।

Budget 2020 : जाने बजट में क्या हुआ सस्ता, क्‍या हुआ महंगा

जी यह बात सुन कर आपको आश्चर्य तो जरूर हुआ होगा कि भला शराब के नशे में कोई कैसे बजट (Britain Parliament Budget) पेश कर सकता है और संसद में शराब पीकर (after drinking alcohol) आने की इजाजत भला कौन दे सकता है, तो आपकी इस उत्सुकता को भी हम ख़त्म किए देते हैं और बता देते हैं कि वो देश है ब्रिटेन, जो अपने देश की संसद में शराब के नशे में बजट पेश करने की इजाजत अपने मंत्री को देता है। सुनने में थोड़ा नहीं बेहद अजीब जरूर है लेकिन हकीकत यही है। ब्रिटेन की संसद में चांसलर बजट पेश करता है और बजट पेश किए जाने वाले दिन उसे शराब पीकर संसद में आने की छूट यानी अनुमति रहती है। अब यह उसकी इच्छा और बुद्धिमत्ता पर निर्भर करता है कि वह शराब पीकर संसद (Britain Parliament Budget) आना चाहता है या नहीं। यह बात मीडिया रिपोर्ट के अनुसार बताई गई है कि ऐसा नियम ब्रिटेन की संसद जिसे ‘हाउस ऑफ कॉमन्स’ कहा जाता है की रूल बुक में दर्ज है। इस रूल बुक में बाकायदा नियम बना हुआ है, जिसमें चांसलर के शराब पीकर संसद में आने और बजट पेश किए जाने की बात का जिक्र है।

Budget 2020 Speech: वित्त मंत्री ने पढ़ा अब तक का सबसे लंबा बजट भाषण, जाने पूरा बजट

ब्रिटेन की संसद ‘हाउस ऑफ कॉमन्स’ (House Of Commence) के उस नियमानुसार ‘शराब पीकर बजट पेश करने की इजाजत सिर्फ चांसलर को होती है, वो भी सिर्फ एक दिन के लिए।’ मतलब जिस दिन संसद (Britain Parliament Budget) में बजट पेश किया जाता है चांसलर सिर्फ उसी दिन शराब पीकर संसद में प्रवेश कर सकता है और बजट पेश कर सकता है। इसके बाद शराब पीकर संसद में प्रवेश की अनुमति किसी को नहीं होती, खुद चांसलर को भी नहीं। यह नियम आज का नहीं है यह दशकों से चला आ रहा नियम है जो आज भी ब्रिटेन की संसद में लागू है। हालांकि ये 21वीं सदी है और लोग काफी जागरूक हैं इसलिए अब कई लोग इस नियम को बेहद ही बेतुका बताते हैं। लेकिन फिर भी यह नियम अभी भी ब्रिटेन की संसद में लागू है

चलिए अब जब बात चल ही पड़ी है ब्रिटेन की संसद (Britain Parliament Budget) से जुडी अजीबोगरीब बात की और बजट की तो आपको एक और आश्चर्य से जुडी बात बताते हैं। जैसा कि आप सभी को पता है और आपने देखा भी होगा कि बजट पेश करने के लिए मंत्री जब संसद पहुंचता है तो उसके हाथ में एक बैग जरूर होता है और उसी बैग में होता है बजट। तो ब्रिटेन में भी ब्रीफकेस में ही बजट लेकर चांसलर संसद पहुंचता है। ब्रिटेन में 100 सालों तक एक ही ब्रीफकेस का इस्तेमाल बजट पेश करने के लिए किया गया। यह बैग साल 1860 में बनाया गया था चांसलर विलियम ग्लैडस्टोन के लिए और इसका नाम था स्कारलेट। स्कारलेट नाम का यह बैग पूरे 100 सालों तक इस्तेमाल किया गया। इसके बाद साल 1965 में तत्कालीन चांसलर जेम्स कैलेघन ने अपने लिए एक नया बैग मंगवाया इसके बाद साल 1997 में चांसलर गॉर्डन ब्राउन ने भी इसी तरह नए बैग की मांग बजट (Britain Parliament Budget)  पेश करने के लिए की। लेकिन इन सबके बावजूद साल 2011 में चांसलर जॉर्ज ऑसबॉर्न ने संसद में बजट पेश करने के लिए, 1860 में चांसलर विलियम ग्लैडस्टोन के लिए बनाए गए उसी 151 साल से ज्यादा पुराने ब्रीफकेस का इस्तेमाल किया।

Special Announcement of MP Budget 2019 : मध्यप्रदेश बजट में हुए ये ख़ास ऐलान

Prabhat Jain

Share.